केंद्र की मोदी सरकार देश की जनता को एक बार फिर से रेल टिकटों की कीमतों में बढोतरी कर तगड़ा झटका देने वाली हैं.

इस बार किरायें में बढोतरी के लिए सुरक्षा का हवाला देकर 2 फीसदी अतिरिक्त सेफ्टी टैक्स वसूलने का फैसला किया गया है. रेलवे का दावा है कि इस फंड का इस्तेमाल रेल सुरक्षा पर किया जाएगा.

दरअसल  भारतीय रेल पर फिलहाल 32 हजार करोड़ रुपये का बोझ है जो दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है. ऐसे में रेलवे को सेफ्टी टैक्स के जरिए मौजूदा वित्तीय वर्ष में 5000 करोड़ रुपये की अतिरिक्त आमदनी हो जाएगी.

रेल मंत्री सुरेश प्रभु का कहना है, “हमें रेलवे और यात्रियों की सुरक्षा के लिए सेफ्टी फंड तैयार करना होगा और हमें उम्मीद है कि इसमें आम जनमानस सहयोग करेगा.” उन्होंने कहा कि हमलोग सभी विकल्पों पर चर्चा कर रहे हैं.

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने अगले पांच साल में एक लाख करोड़ रुपये का स्पेशल सेफ्टी फंड बनाने का फैसला किया है. इस फंड के जरिए रेल ट्रैक और सिग्नल सिस्टम का अपग्रेडेशन के अलावा मानव रहित फाटकों को खत्म करने का काम किया जाना है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE