2g sl 2 1 2011

UPA सरकार के शासन काल से जुड़ा 2जी स्‍पेक्‍ट्रम घोटाले का फैसला आज आ सकता है. इस मामले में डीएमके नेता और पूर्व टेलीकॉम मंत्री ए राजा, कनीमोरी और कई हाई-प्रोफाइल उद्योगपति आरोपी हैं.

मामले की सुनवाई करने वाली सीबीआई की विशेष अदालत तीन मामलों में फैसला सुनाएगी. इसमें दो केस सीबीआई के हैं और एक केस प्रवर्तन निदेशालय का है. सीबीआई के पहले केस में ए राजा और कनिमोझी समेत पूर्व टेलीकॉम सेक्रेटरी सिद्धार्थ बेहुरा और राजा के पूर्व निजी सचिव भी इस मामले में आरोपी हैं.

इसके अलावा स्वान टेलीकॉम के प्रमोटर्स, यूनिटेक के प्रबंध निदेशक, रिलायंस अनिल धीरूभाई अंबानी समूह के तीन सीनियर अधिकारी और कलैग्नर टीवी के निदेशकों पर भी आरोपी हैं. पिछले महीने कोर्ट ने सुनवाई के दौरान फैसले की तारीख सात नवंबर के रूप में निर्धारित की थी.

इस मामले में तीन टेलीकॉम कंपनियां-स्‍वान टेलीकॉक प्राइवेट लिमिटेड, रिलायंस टेलीकॉम लिमिटेड और यूनीटेक वायरलेस (तमिलनाडु) लिमिटेड भी ट्रायल का सामना कर रही हैं. अदालत ने अक्टूबर 2011 को तीनों के खिलाफ आरोप तय किए थे.

अदालत ने 154 सीबीआई गवाहों के बयान दर्ज किए जिसमें अनिल अंबानी, उनकी पत्नी टीना अंबानी, नीरा राडिया के नाम शमिल हैं. इस मामले में आरोपियों को छह महीने से लेकर आजीवन कारावास तक की सजा हो सकती है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE