नई दिल्ली | मशहूर इंग्लिश न्यूज़ चैनल एंकर अर्नब गोस्वामी ने 6 मई को अपने नए वेंचर ‘रिपब्लिक’ को लांच किया था. उन्होंने अपने नए चैनल को लांच करते ही बड़ा धमाका किया था. उन्होंने उसी दिन लालू प्रसाद यादव और शाहबुद्दीन के बीच की बातचीत का फ़ोन टेप जारी कर दिया था. इसके बाद उन्होंने शशि थरूर और उनकी पत्नी सुनंदा पुष्कर हत्याकांड मामले में भी एक फोन टेप जारी कर सनसनी फैलानी की कोशिश की थी.

लेकिन इतनी धमाकेदार लौन्चिंग होने के बाद भी विवाद न ही रिपब्लिक और न ही अर्नब का पीछा छोड़ रहे है. कल ही नेशनल ब्राडकास्टिंग एजेंसी ने अर्नब के चैनल पर आरोप लगाया की वो ड्यूल फ्रीक्वेंसी पर अपना चैनल चला रहे है, जो अपराध की श्रेणी में आता है. इसके अलावा एंकरिंग के दौरान उनके व्यवहार की भी लोग शिकायत कर रहे है. यही नही खुद उनके चैनल के लोग अब अर्नब से परेशान होना शुरू हो गए है.

मिली जानकारी के अनुसार रिपब्लिक की बिज़नस एंकर और वरिष्ठ पत्रकार चैती नरूला ने नैतिकता के आधार पर चैनल से इस्तीफा दे दिया है. सूत्रों के मुताबिक चैती के अलावा चैनल के सम्पादकीय और तकनिकी विभाग के कई कर्मचारी अर्नब से खुश नही है. उनके लिए अर्नब को सहन करना असहनीय हो रहा है. चैती का इस्तीफा रिपब्लिक के लिए झटका हो सकता है क्योकि चैती बहुत ही वरिष्ठ पत्रकार रही है.

चैती इससे पहले टी नाउ, सीएनएन-आईबीएन और वॉयन में बतौर बिजनेस रिपोर्टर और एंकर के रुप में काम कर चुकी है. हालाँकि कुछ लोगो का कहना है की चैती ने निजी कारणों से इस्तीफा दिया है. वही चैनल के सूत्रों के अनुसार अर्नब का कहना है की उन्होंने चैती को निकाला है. वही चैती के करीबी सूत्रों ने इसको गलत बताया. अर्नब के चैनल के साथ यह पहला विवाद नही है.

इससे पहले उन पर आरोप लग रहे है की उनके चैनल में बीजेपी नेताओ के पैसे लगे हुए है. खबर है की चैनल में बीजेपी के राज्यसभा सांसद राजीव चंद्रशेखर और बीजेपी समर्थक मोहनदास पै का पैसा लगा हुआ है. हालाँकि अर्नब इस बात से इनकार करते आये है. उनका कहना है की मेरे चैनल की फंडिंग पब्लिक है. जो यह बात कह रहे है उन्हें पहले सबूत दिखाना चाहिए इसके बाद वो यह बात कहने के लिए स्वतंत्र है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE