haoc

भारतीय हॉकी टीम ने रविवार को महिला एशिया कप के फाइनल में चीन को मात देते हुए खिताब अपने नाम कर लिया. इस दौरान चीन को 5-4 से मात दी गई.

ध्यान रहे भारत ने इस टूर्नामेंट में 13 साल बाद जीता है. इसी के साथ भारतीय टीम ने विश्व कप 2018 के लिए भी क्वॉलिफाइ कर लिया है. अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ ने एक बयान जारी कर भारत के क्वालीफाई करने की पुष्टि कर दी है..

इस खिताबी मुकाबले का फैसला शूटआउट से हुआ. इससे पहले मैच का निर्धारित समय खत्म होने पर दोनों टीमें 1-1 से बराबर थीं. भारत को नवजोत कौर ने 25वें मिनट में गोल कर 1-0 से आगे कर दिया था. वह जीत के करीब बढ़ रही थी, लेकिन चौथे क्वार्टर में 47वें मिनट में तियानतियान लुवो ने पेनाल्टी कॉर्नर को गोल में बदलते हुए मुकाबले में बराबरी कर ली.

निर्धारित समय तक मैच 1-1 से बराबर रहने के बाद मैच का फैसला पेनल्टी शूटआउट में निकला, जिसमें भारत ने बाजी मारी. इसमें भी पेनल्टी शूटआउट के बाद भारत और चीन 4-4 से बराबर थे.

ऐसे में सडनडेथ का सहारा लिया गया, इसमें भारत की तरफ से रानी ने गोल दागा, जबकि चीनी खिलाड़ी गोल करने का मौका चूक गई और भारत ने 5-4 से खिताब अपने नाम किया.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE