ऑल इंडिया मुस्लिम मजलिस मशावरात के चुनाव के नतीजे घोषित हो चुके हैं. मुसलमानों के इस संस्था के चुनाव पर सबकी नज़र थी. इस चुनाव में मुसलमानों के तीन अहम नाम मैदान में थे. तीन लोगों के बीच कड़ी टक्कर में बाजी नवेद हामिद के हाथ लगी है. वो पांच वोटों से यह चुनाव जीत चुके हैं.

IMG-20160101-WA0000

इस चुनाव में साउथ एशियन कौंसिल फॉर माईनरिटीज़ के सचिव नवेद हामिद, इंस्टीट्यूट ऑफ ऑब्जेक्टिव स्टडीज़ के निदेशक डॉ. मंज़ूर अहमद और पूर्व राज्यसभा सांसद मो. अदीब के बीच मुक़ाबला था.

और पढ़े -   बिहार में मूर्ति विसर्जन को लेकर दो बीजेपी नेता आमने सामने! गिरिराज सिंह का सवाल, क्या दशमी मनाने पाकिस्तान जायेगा हिन्दू ?

ऑल इंडिया मुस्लिम मजलिस मशावरात मुसलमानों के लिए काम करने वाले नामचीन संगठनों में एक है. इस संगठन में कुल 146 सदस्य हैं. जिसमें 144 लोगों ने वोट दिया था. इन 144 वोटों में से 52 वोट नवेद हामिद को मिले. दूसरे नंबर पर डॉ. मंज़ूर आलम रहें और उन्हें 47 वोट मिलें. तीसरा नंबर मो. अदीब का रहा. उन्हें 45 सदस्यों का वोट हासिल हुआ.

और पढ़े -   बीएचयु में छात्राओं पर हुई लाठीचार्ज के खिलाफ एएमयू की छात्राओं ने किया प्रदर्शन कहा, हम अपनी बहनों को नही छोड़ेंगी अकेला

नवेद हामिद ने TwoCircles.net के साथ बात करते हुए बताया कि –‘एक बहुत बड़ी ज़िम्मेदारी मुझे सौंपा गया है, जिसे मैं पूरी ईमानदारी के साथ निभाने की कोशिश करूंगा. जिस मक़सद के तहत आज से 51 साल पहले इस संगठन को बनाया गया था, उस मक़सद को अब ज़मीन पर उतारने की पूरी कोशिश करूंगा.’

स्पष्ट रहे कि नवेद हामिद 2012 में भी अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ चुके हैं. लेकिन उस समय सिर्फ़ 2 वोटों से डॉ. ज़फ़रूल इस्लाम खान से वो चुनाव हार गए थे.

और पढ़े -   गौरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा के शिकार लोगो मुआवजा दे राज्य सरकारे- सुप्रीम कोर्ट

उम्मीद की जाती है कि ऑल इंडिया मुस्लिम मजलिस मशावरात के नए अध्यक्ष इस संगठन को नए दिशा की ओर ले जाएंगे और मुसलमानों के मसले को पूरे ज़ोर-शोर से पूरी मज़बूती व ईमानदारी के साथ उठाएंगे. साभार: twocircles.net


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE