“प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अब उनकी पार्टी से ही विरोध की आवाजें सुनाई देने लगी हैं। ताजा मामला भाजपा सांसद अश्विनी कुमार का है जिनके अखबार में एक विशेष संपादकीय में नरेंद्र मोदी की जमकर आलोचना की गई है जबकि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तारीफ में कसीदे पढ़े गए हैं। ”
इस विशेष संपादकीय में कहा गया है नरेंद्र मोदी से जनता का मोहभंग हो गया है जबकि केजरीवाल की लोकप्रियता बुलंदी पर है। गौरतलब है कि अश्विनी कुमार भाजपा के हरियाणा से लोकसभा सांसद हैं और न सिर्फ मोदी बल्कि पार्टी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली और सुषमा स्वराज के भी बेहद करीबी माने जाते हैं। उनके अखबार में ऐसा छपना मोदी के लिए करारा झटका है।

अश्विनी कुमार के अखबार पंजाब केसरी में आदित्य चोपड़ा के नाम से छपे संपादकीय में कटाक्ष करते हुए लिखा गया है कि प्रधानमंत्री मोदी की लोकप्रियता सिर्फ उनके विदेश दौरों के समय ही दिखती है जबकि केजरीवाल ने लोगों से जुड़े मुद्दों पर काम करते हुए अपनी पकड़ और मजबूत कर ली है। यही नहीं आदित्य चोपड़ा यह भी लिखते हैं कि देश में अर्थव्यवस्था की स्थिति खराब है, मंहगाई बढ़ रही है, कारोबारी जगत में निराशा का माहौल है जबकि जनता के बीच केंद्र सरकार की छवि यह बन गई है कि यह सिर्फ उद्योगपतियों का भला सोचने वाली सरकार है।

गौरतलब है कि आदित्य चोपड़ा भाजपा सासंद अश्विनी कुमार के बेटे हैं और उनके इस आलेख का इस तरह छपना मोदी पर अश्विनी कुमार के हमले के रुप में ही देख जा रहा है। अरविंद केजरीवाल ने इस आलेख को ट्विट करते हुए आदित्य चोपड़ा नहीं बल्कि अश्विनी कुमार के नाम का ही इस्तेमाल किया है यानी वह भी यही संदेश देना चाहते हैं कि अश्विनी कुमार ने ही मोदी पर हमला किया है। भाजपा से जुड़े सूत्र बताते हैं कि अश्विनी कुमार हाल के दिनों में पार्टी नाराज चल रहे हैं और कैबिनेट के कुछ वरिष्ठ मंत्रियों से भी उनकी नाराजगी रही है। (outlookhindi.com)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE