najib

जेएनयू के छात्र नजीब अहमद को हॉस्टल से गायब हुए नौ दिन से ज्यादा समय हो गया है लेकिन अभी तक छात्र की बरामदगी को लेकर प्रशासन में सतर्कता का माहौल नज़र नही आ रहा है लेकिन विश्व विद्यालय की मुश्किलें दिन बा दिन बढ़ती जा रही है.

वहीँ ताज़ा खबर यह आ रही है की नजीब की खोजने की जांच कैंपस से शुरू होगी जिसके लिए सोमवार सुबह जेएनयू के कुलपति प्रो. एम. जगदीश कुमार दिल्ली पुलिस आयुक्त आलोक वर्मा ने मिलने वाले हैं। इसके साथ ही नजीब को कैंपस में ही खोजने के लिए सुरक्षा को सतर्क किया गया है।

और पढ़े -   गौरक्षकों के डर से पहलू खान के ड्राइवर ने छोड़ा अपना मवेशी पहुंचाने का काम

वहीँ जेएनयू के एक छात्र ने दावा किया है की जब विश्वविद्यालय के छात्र नजीब अहमद की कुछ एबीवीपी समर्थकों के साथ कथित झड़प हुयी थी तो उस समय उसकी हत्या का प्रयास किया गया था, पुलिस ने उसके अभिभावकों की शिकायत पर एक FIR भी दर्ज की है।

जेएनयू में स्कूल आफ इंटरनैशनल स्टडीज में एम. फिल. के छात्र शाहिद रजा खान ने कहा, ‘मैंने पहली मंजिल से कुछ हल्ला सुना। जब मैं नीचे गया तो मैंने देखा कि नजीब के मुंह और नाक से खून बह रहा है। हमने वार्डेन को बुलाया और नजीब को बाथरुम ले गए।’ खान ने कहा, ‘लेकिन कुछ छात्र आए और बाथरुम के अंदर नजीब के साथ मारपीट की। वे लोग चिल्ला रहे थे कि उसे नहीं बख्शना चाहिए।’

और पढ़े -   गैंगरेप मामले में झूठ के जरिये मुजफ्फरनगर की फिजा बिगाड़ने की कोशिश, अफवाह फैलाने वाले शख्स को ट्विटर पर फोलो करते है मोदी

प्रशासन की ओर से जेएनयू के लोगों से अपील की गई है कि नजीब अहमद के मामले के राजनीतिकरण के खिलाफ वे एकजुट हो जाएं ताकि इसका कोई दुरुपयोग न कर सके। इसके अलावा छात्र को सही सलामत कैंपस में वापस लाने में विश्वविद्यालय की मदद करें।

 


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE