नई दिल्ली | केंद्र में मोदी सरकार बनने के बाद से गौहत्या और लव जिहाद के नाम पर एक खास समुदाय को निशाना बनाया जा रहा है. इस बात से चिंतित होकर एक मुस्लिम प्रतिनिधिमंडल मंगलवार को प्रधानमंत्री मोदी से मिला. इस दौरान उन्होंने मोदी को बताया की लव जिहाद और गौहत्या के नाम पर डर का माहौल बनाया जा रहा है जिसकी वजह से मुस्लिम वर्ग काफी परेशान है.

प्रतिनिधिमंडल ने मोदी के सामने कई और अहम् मुद्दों भी उठाये. इस पर मोदी ने सबको आश्वासन दिया की वो इस मामले को गंभीरता से लेंगे और मुस्लिमो के विकास के लिए हर संभव प्रयास करेंगे. शुक्रवार को इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए जाहिर काजी ने बताया की जमियत उलमा-ए-हिन्द का एक प्रतिनिधिमंडल मंगलवार को मोदी जी से मिला. मुलाकात के दौरान कई अहम मुद्दों को उनके सामने रखा गया.

जाहिर ने बताया की इस मुलाकात का मकसद उस डर के माहौल को मोदी जी के सामने रखना था जो गौहत्या और लव जिहाद के नाम पर पिछले कुछ दिनों में बना है. हमने बताया की इन मुद्दों को लेकर मुस्लिमो को निशाना बनाया जा रहा है. इस दौरान कई लोगो ने अपने अपने ढंग से अपनी बाते रखी. इस पर मोदी जी ने कहा की यह मेरी जिम्मेदारी है की देश में कोई भी डर कर न जिए.

जाहिर ने आगे कहा की मोदी जी ने कहा की देश के विकास में मुस्लिमो का भी अहम् योगदान रहा है. इसलिए हमारा प्रयास है की मुस्लिमो को भी देश के विकास में भागीदार बनाया जाए. इस दौरान कश्मीर और तीन तलाक का भी मुद्दा उठा. मोदी जी ने हमसे कहा की आप इस मुद्दे पर राजनीती न होने दे और उचित कदम उठाये. वही हमने भी उन्हें आश्वस्त किया की भारत के खिलाफ होने वाली किसी भी साजिश को मुस्लिम समुदाय कामयाब होने की अनुमति नही देगा.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE