022366814718farooqabdullah

श्रीनगर | पिछले कुछ दिनों से सर्जिकल स्ट्राइक पर सियासत गरमाई हुई है. केंद्र सरकार सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय लेने के लिए इसकी खूब मार्केटिंग कर रही है वही विपक्ष भी केंद्र सरकार की मार्केटिंग को हजम नही कर पा रहा है. केद्र सरकार में श्रेय लेने की मची होड़ के बीच कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने मोदी पर जवानों की खून की दलाली करने का आरोप लगा दिया. अब ऐसा ही बयान जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला ने भी दिया है.

सर्जिकल स्ट्राइक पर हो रही सियासत पर फारुख अब्दुला से जब सवाल किया गया तो उन्होंने कहा की यह बात सही है की कुछ लोग केवल चुनाव जीतने के लिए फौजियों के खून को सौदा करना चाहते है. फौजियों के खून का बेचना चाहते है. फौजी किसी सरकार का नही होता. हमारी फ़ौज पूरे हिंदुस्तान की है. फ़ौज पर सियासत करना ठीक नही है.

अटल बिहारी वाजपेयी के बारे में बताते हुए फारुख अब्दुल्ला ने कहा की वाजपेयी जी कहते थे की हम अपने दोस्तों को बदल सकते है लेकिन पड़ोसियों को नही. इसलिए अपने पड़ोसियों के साथ मधुर सम्बन्ध बना कर रखना चाहिए. अगर मोदी जी वाजपेयी को अपना नेता मानते है तो उन्हें उनकी नीतियों पर चल कर दिखाना चाहिए.

मालूम हो की कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने भी मोदी पर कुछ इसी तरह का बयान दिया था. राहुल गाँधी ने उत्तर प्रदेश में अपनी किसान यात्रा के समापन पर बोलते हुए कहा था की मोदी जी हमारे जवानों के खून की दलाली कर रहे है. जवान तो सीमा पर अपना काम बड़े अच्छे से कर रहे है लेकिन मोदी जी आप दिल्ली में बैठ कर उनके खून की दलाली कर रहे हो. राहुल के इस बयान की सभी दलों ने आलोचना की थी. हालांकि राहुल ने इस बयान पर अपनी सफाई देते हुए कहा था की मैं सर्जिकल स्ट्राइक पर हो रही राजनीती के खिलाफ हूँ.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें