09s-2

नई दिल्ली | नोट बंदी का आज 15वा दिन है. नोट बंदी के पहले दिन की ही तरह आज भी लोग बैंकों की कतार में खड़े है. किसानो को हो रही परेशानी को देखते हुए मोदी सरकार ने कुछ रियायते देने का फैसला किया है. इसके अलावा डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए भी कुछ फैसले किये गए है. आइये आपको बताते है केंद्र सरकार ने क्या क्या रियायते दी है.

  • किसानो को कर्ज देने के लिए नाबार्ड ने जिला केन्द्रीय सहकारी बैंकों को 21 हजार करोड़ रूपए जारी करने की अनुमति दी है.
  • इसके अलावा रिज़र्व बैंक , आम बैंक और नाबार्ड को सहकारी बैंकों को कैश उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए है. इससे वो किसानो को लोन व् जरुरत की नकदी उपलब्ध करा पायेंगे.
  • पेटीएम् और अन्य वॉलेट सुविधा देने वाली कंपनी से भुगतान करने की सीमा भी बढ़ा दी गयी है. पहले यह सीमा 10 हजार रूपए थी जो बढाकर अब 20 हजार कर दी गयी है.
  • बिग बाजार से भी अब 2000 रूपए कैश लिए जा सकेंगे.
  • डेबिट कार्ड से पेमेंट करने पर अब सरचार्ज नही लगेगा. सरकारी और प्राइवेट बैंकों ने 31 दिसम्बर तक कोई भी सरचार्ज नही लेने की स्वीकृति दे दी है.
  • इसके अलावा स्मार्ट फ़ोन से किये जाने वाले सभी लेन देन भी 31 दिसम्बर तक सेवा शुल्क से बाहर कर दिए गए है.
  • सभी सरकारी उपक्रमों को निर्देश दिए गए है की वेतन देने के लिए डिजिटल भुगतान का सहारा ले.
  • शादी वाले परिवार को थोड़ी राहत देते हुए आरबीआई ने निर्देश दिए है की अब केवल 10 हजार से ऊपर खर्चे के लिए ही बैंक को रसीद और डिक्लेरेशन देना होगा.

आर्थिक मामलो के वित्त सचिव शशिकांत दास ने मीडिया को बताया की अभी तक देश के 82 हजार एटीएम कैलिब्रेट कर दिए गए है. बहुत जल्द देश के सभी एटीएम कैलिब्रेट कर दिए जायेंगे जिससे लोगो को नए नोट मिनले जल्द शुरू हो जायेंगे.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें