Nana_Patekar

किसानो को लेकर एक तरह की लड़ाई लड़ रहे नाना पाटेकर ने मोदी सरकार पर आरोप लगाया है की इस सरकार ने किसानों को भिखारी बना दिया, मैं किसानों का दर्द साफ महसूस कर सकता हूँ।

नाना पाटेकर ने कहा की भीषण सूखे के कारन लोग शहरों में पलायन कर रहे है अगर कोई आपकी गाड़ी की खिड़की पर आकर कुछ मांगे तो उसके साथ भिखारियों जैसा बर्ताव ना करे हो सकता है वो कोई भूखा किसान हो। इसके साथ ही उन्होंने कहा वे मजबूर हैं। उन्हें खाना, पानी और शौचालयों की जरूरत है।

आने वाले दो महीने बहुत ही मुश्किल भरे होने वाले हैं। अगर सरकार इस पर पहले ही ध्यान देती तो आज ये नौबत देखने को न मिलती और वाटर ट्रेन भेजने की जरूरत नहीं होती। एक आम आदमी के तौर पर हम भी और हमारे नेता भी इस मामले में फेल हुए हैं।

सूखे को लेकर लोग बहुत बड़ी मुश्किल में है। लेकिन उन्होंने यह पहली बार नहीं देखा है। लोगों को सिस्टम पर सवाल जरूर उठाना चाहिए। चुप रहना एक अपराध है। हर रोज किसान आत्महत्या क्र रहें है और हम अंधे नहीं हैं जो मर रहे लोगों को नहीं देख सकते

नाना पाटेकर ओर किसानो से जुडी कुछ ओर ख़बरें 

महाराष्ट्र के सूखे पर बोले नाना पाटेकर – अब चुप रहना अपराध होगा

नाना पाटेकर के बाद अक्षय कुमार ने किसानों की मदद के लिए 90 लाख रुपये बांटे

सभी फॉर्म से जाति और धर्म हटाओ: नाना पाटेकर

केजरीवाल के काम की लोकप्रियता दिख रही है : नाना पाटेकर

क़ुरान मेरे दिल के बहुत क़रीब है – नाना पाटेकर

 


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें