jnu-student

नई दिल्ली | दिल्ली की जवाहर लाल यूनिवर्सिटी से 15 अक्टूबर को लापता हुए छात्र नजीब अहमद का अभी तक कोई सुराग नही लगा है. दिल्ली पुलिस और विश्विधालय प्रशासन पर सवाल उठने लाजिमी है क्योंकि 17 दिन बीत जाने के बाद भी नजीब का पता नही चला है. नजीब की सकुशल वापसी के लिए , नजीब के परिजन कल दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल से मिले.

जेएनयु के छात्रसंघ अध्यक्ष मोहित ने मीडिया को बताया की नजीब की माँ फातिमा और छात्रों का एक प्रतिनिधिमंडल सोमवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल से मिला. इस मौके पर नजीब के परिजनो ने केजरीवाल से दिल्ली पुलिस और यूनिवर्सिटी प्रशासन की कार्यवाही पर सवाल उठाते हुए बताया की इतने दिन बीत जाने के बाद भी दिल्ली पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ नही की है.

नजीब की माँ ने केजरीवाल से कहा की जब लापता की रिपोर्ट दर्ज हो चुकी है तो पुलिस ने अभी तक मारिपित करने और जान से मारने की धमकी देने वाले ABVP के तीनो छात्रों से अभी तक पूछताछ क्यों नही की. पुलिस नजीब को दरगाह और मस्जिदों में ढूंढ रही है जबकि यूनिवर्सिटी के पास मौजूद जंगल में नजीब को नही ढूँढा जा रहा है. हम बार बार दिल्ली पुलिस से इसकी मांग कर रही है.

छात्रों के प्रतिनिधिमंडल ने केजरीवाल को पूरी घटनाक्रम की जानकारी दी. केजरीवाल ने नजीब की माँ और छात्रों को आश्वासन दिया की नजीब की सकुशल वापसी के लिए जो हर संभव मदद होगी वो करेंगे. मेरी संवेदनाये नजीब के परिवार के साथ है. इस मौके पर केजरीवाल के साथ ओखला और महरौली के विधायक भी मौजूद थे. मोहित ने जानकारी दी की यूनिवर्सिटी प्रशासन ने अभी तक नजीब के परिवार से भी मुलाकात नही की है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें