राष्ट्रपति पद के लिए 17 जुलाई को होने वाले चुनाव के लिये कांग्रेस की अगुआई वाले विपक्ष की और से मीरा कुमार ने बुधवार को अपना नामांकन दाखिल कर दिया। इस दौरान विपक्ष के तमाम बड़े नेता मौजूद रहे। हालांकि पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी नजर नहीं आए.

इस दौरान मीरा कुमार के साथ कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार, तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी, कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया के सचिव डी राजा, डीएमके नेता कनिमोझी, बहुजन समाज पार्टी के महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा और समाजवादी पार्टी के नरेश अग्रवाल मौजूद थे.

और पढ़े -   तीन तलाक: सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर बोला दारुल उलूम कहा, शरियत में कोई दखलअंदाजी बर्दाश्त नही

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया, पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायण स्वामी, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह, राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद, लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे भी मौके पर मौजूद थे.

इस दौरान कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने इस मौके पर कहा कि हमारे लिए ये विचारधारा, सिद्धांत और सच्चाई की लड़ाई है और हम इसे लड़ेंगे. लेकिन इतने बड़े मौके पर कई बड़े नेताओं की गैर मौजूदगी ने रंग में भंग डालने का काम तो कर ही दिया.

और पढ़े -   सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद तीन तलाक को लेकर पहली एफआईआर दर्ज, पूर्व सपा विधायक के खिलाफ मामला दर्ज

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE