मथुरा में बीते गुरुवार 2 जून को जवाहरबाग में हुई हिंसा का मामला अब सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया है. बीजेपी नेता अश्वि‍नी उपाध्याय ने सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दायर कर पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग की हैं. इस मामले में सुप्रीम मंगलवार को सुनवाई कर सकता है.

मथुरा के जवाहरबाग में सरकारी जमीन से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के दौरान भीषण हिंसा हुई, जिसमें दो पुलिसकर्मियों समेत 29 अन्‍य की मौत हो गई. बीजेपी नेता ने अपनी याचिका में कहा कि इस पूरी हिंसक झड़प के कर्ताधर्ता और आजाद भारत विधिक वैचारिक क्रांति सत्याग्रही के नेता रामवृक्ष यादव को राजनीतिक संरक्षण प्राप्‍त था, जिसकी वजह से वो जवाहरबाग में अपनी एक समानांतर सरकार चला रहा था.

और पढ़े -   UPA के गोपालकृष्ण गांधी के सामने नायडू होंगे NDA के उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार

याचिका में कहा गया है कि राजनीतिक संरक्षण की वजह से ही रामवृक्ष यादव ने जवाहरबाग में अपने संप्रदाय के लोगों के साथ इतनी अधिक मात्रा में गोला-बारूद जमा करके रखा हुआ था. ये सब बिना सरकारी मदद और राजनीतिक संरक्षण के मुमकिन नहीं है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE