apj-kalam-azad

मुंबई – महाराष्ट्र सरकार के नेशनल लीडर और हीरो की लिस्ट में एक भी ना मुस्लिम लेने पर जर्नलिस्ट सरफराज आरजू ने बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर सीएम देवेन्द्र फर्नाडिस, माइनॉरिटी कमीशन के चैयरमेन आमिर हुसैन और माइनॉरिटी अफेयर्स के मिनिस्टर एकनाथ खडसे से ज़वाब माँगा है

महाराष्ट्र सरकार ने एक सर्कुलर (Ja.Pu.Ti-2215/279/PrKr/285/29) से 26 दिन की लिस्ट ज़ारी की थी जिसमे नेशनल हीरो और लीडर के लिए प्रोग्राम और सेलिब्रेशन तय किया गया है लेकिन इसमें एक भी ना मुस्लिम होने से समाज में नाराज़गी है

याचिका में कहा गया है “ये दुर्भाग्य है कि सरकार को एक भी नेशनल हीरो/लीडर मुस्लिम धर्म से नही मिला, भारतीय मुस्लिम ने अपने वतन के लियें और इंसानियत के लिए तमाम कुर्बानिय दी है, ये छात्रों के लियें ज़रूरी था कि वो मुस्लिम हीरो के बारे में जानते ताकि इस्लाम के लियें उनके मन में सही राय बन पायें “

याचिका में आजादी की लड़ाई लड़ने वाले सिपाही मौलाना अबुल कलाम आज़ाद, डाक्टर जाकिर हुसैन, डाक्टर अब्दुल कलम, अब्दुल हामिद, ख्वाजा गरीब नवाज़, मौलाना शौकत अली, शाहनवाज़ खान, सर बदरुद्दीन त्येबजी, टीपू सुल्तान, बहादुर शाह ज़फ़र, खान अब्दुल गफ्फार खान, अशफाकुल्लाह खान के अलावा भी कई नाम जिनको सरकार ने आंख बंद करते हुयें गौर तक नही किया.

याचिकाकर्ता ने सीएम फडनवीस, खडसे और दुसरे ज़िम्मेदार अधिकारीयों को इसके बारे में लिखित जानकारी दी लेकिन कोई ज़वाब नही मिलने पर बाम्बे हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गयी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE