नेपाल : प्रदर्शनकारी मधेसियों की पुलिस से झड़प, पीएम ओली ने हिंसा के खिलाफ चेताया

काठमांडू: नेपाल के नए संविधान में अधिकारों एवं प्रतिनिधित्व की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे करीब 1,000 प्रदर्शनकारी सरकार विरोधी नारेबाजी लगाते हुए प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर बढ़ रहे थे, प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने लाठियां भांजी। जिसमें तीन मधेसी कार्यकर्ता घायल हो गए।

सात मधेसी राजनीतिक पार्टियों और 22 अन्य समूहों के प्रतिनिधि मोर्चा ‘फेडरल अलायांस’ ने कहा है कि वह मंगलवार को प्रधानमंत्री के आधिकारिक आवास का घेराव करेगा। प्रधानमंत्री कार्यालय और सरकारी दफ्तर के आसपास सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए इलाके में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है।

और पढ़े -   जेवर गैंगरेप: पीड़ित महिला ने बदमाशो से लगाई थी गुहार कहा , तुम्हारी माँ जैसी हूँ

प्रधानमंत्री केपी ओली ने चेतावनी दी कि अगर प्रदर्शनकारी हिंसक हुए तो सरकार चुप नहीं बैठेगी। फेडरल अलायंस के प्रवक्ता परशुराम तमांग ने कहा कि पुलिसकर्मियों ने सैकड़ों नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को रोक कर उनसे अनावश्यक रूप से पूछताछ की गई, उनके झंडे जब्त कर लिए गए और उनकी तलाशी भी ली गई।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE