गाजियाबाद | गजियाबाद में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने आये उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए तब असमंजस की स्थिति पैदा हो गयी जब वहां मौजूद कुछ अभिभावकों ने स्कूलों की मनमानी को लेकर हंगामा शुरू कर दिया. यही नही अभिभावकों ने योगी सरकार से निजी स्कूलों के खिलाफ उसी तरह के फैसले लेने की अपील की जैसे दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने लिए है.

दरअसल गुरुवार को योगी आदित्यनाथ दिल्ली से सटे गाजियाबाद में कैलाश मानसरोवर भवन का शिलान्यास करने पहुंचे थे. योगी ने मंत्रोचार के साथ भवन का शिलान्यास किया. इस दौरान उन्होंने पूर्व की सरकारों पर तंज कसते हुए कहा की काफी लोगो ने इस बात का पूरा प्रयास किया की यह भवन यहाँ न बने लेकिन हमने भी इसे दिल्ली से सटे जिले में बनाने का फैसला किया. इसके बाद उन्होंने कुछ लोगो को प्रधानमंत्री आवास योजना के सर्टिफिकेट भी वितरित किये.

और पढ़े -   मोदी सरकार ने SC में दाखिल किया हलफनामा, कहा - रोहिंग्‍या से देश की सुरक्षा को खतरा

लेकिन इस कार्यक्रम में तब अजीब स्थिति उत्पन हो गयी जब आम लोगो के बीच बैठे कुछ अभिवावकों ने अपने अपने हाथो में पोस्टर उठाकर प्रदर्शन करना शुरू कर दिया. इन पोस्टर पर निजी स्कूलों की मनमानी के विरोध में स्लोगन लिखे हुए थे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कुछ पोस्टर पर दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल की तारीफ भी लिखी हुई थी. इन पर लिखा था, केजरीवाल ने जैसा दिल्ली में बनाया उसी तरह यूपी में एजुकेशन सिस्टम बने.

और पढ़े -   हिन्दू महासभा ने मोदी सरकार को लिया आड़े हाथो कहा, हम सरकार बनाना जानते है तो गिराना भी

इसके अलावा शिक्षा को व्यापर न बनने देने की भी मांग लिखी हुई थी. मुख्यमंत्री की सभा में हुए इस हंगामे से पुलिसकर्मियों के हाथ पाँव फूल गए. उन्होंने अभिभावकों को समझाने की भी कोशिश की. लेकिन जब वो नही माने तो योगी ने उन्हें समझाने का प्रयास किया. उन्होंने कहा की निजी स्कूलों की मनमानी रोकने के लिए समिती का गठन कर दिया गया है. इसके अलावा बढ़ी हुई फीस का भी समाधान निकाला जायेगा.

और पढ़े -   रोहिंग्या शरणार्थियों की आने की संभावना के चलते भारत ने म्यांमार के साथ की अपनी सीमा सील

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE