fac

देश भर में कश्मीरी छात्रों को हिंसा का शिकार बनाया जा रहा हैं. देशभक्ति के नाम पर भगवा संगठनों की शर्मनाक हरकतें जारी हैं. भोपाल के बाद अब हैदराबाद में एक 25 साल के रिसर्च स्कॉलर की कश्मीरी छात्र समझ कर बेदर्दी के साथ पिटाई की गई हैं.

25 से अधिक एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने अमोल सिंह नामक एक सिख छात्र की पिटाई सिर्फ़ इसलिए कर दी क्यूंकि वो उसे कश्मीरी समझ बेठे थे. अमोल सिंह ने बताया कि उन्होंने इन गुण्डों से बचने के लिए कोशिशें कीं और भागे भी लेकिन वो इनके पीछा करने लगे.

और पढ़े -   गौरक्षकों के डर से पहलू खान के ड्राइवर ने छोड़ा अपना मवेशी पहुंचाने का काम

अमोल के अनुसार वे बिलाल नाम के कश्मीरी छात्र को[पीटना चाहते थे जो पहले इस यूनिवर्सिटी का छात्र था. लेकिन दाढ़ी और स्किन के रंग की वजह से उनहे कश्मीरी समझ कर पीटा गया. अब सवाल उठता हैं कि देश के कानून ने कश्मीरी छात्रों को देश भर में पीटने का अधिकार दिया हुआ हैं या भगवा संगठन के कार्यकर्ता कानून से भी उपर हैं ?

और पढ़े -   यूपी: गौरक्षक दल की नवरात्रों में मस्जिद के लाउडस्पीकर और मीट की दुकाने बंद कराने की मांग

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE