ऊना काण्ड की बरसी पर अहमदाबाद में आयोजित ऊना कूच के दौरान कन्हैया कुमार को गिरफ्तार कर लिया गया है इनके साथ ही साथ जिग्नेश मेवानी और रेशमा पटेल की भी गिरफ़्तारी हुई है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार कल आयोजित इस कूच में शामिल होने देश के विभिन्न शहरों से प्रगतिशील लोगों का जमावड़ा हुआ था। बताते चलें कि पिछली साल मरी हुई गाय को विस्मृत करने के लिए जा रहे 4 दलित युवकों को गौरक्षक गुंडों के द्वारा पीट-पीट के अधमरा कर दिया गया था जिसके बाद दलितों के बीच से प्रतिक्रियाओं का आना शुरू हो गया था। तत्पश्चात जिग्नेश मेवानी के नेतृत्व में लोगों ने सड़क पर आकर इसका प्रतिकार किया गया था और उसी आंदोलन से ‘गाय की पूछ तुम रखो,हमें हमारी जमीन दो’ के साथ आवाज बुलन्द किया गया था। जिसके फलस्वरूप गुजरात सरकार को दलितों के लिए जमीन आवंटित करनी पड़ी थी। आंदोलन को नेतृत्व करने वाले जिग्नेश मेवानी को इस बीच कई बार गिरफ्तार किया गया था और उनपर केस भी दर्ज किये गए थे।

और पढ़े -   दलाल बन गए बेरोजगार, वे ही कर रहे हल्ला और कह रहे रोजगार नहीं है: पीएम मोदी

ऊना आंदोलन के एक साल बाद अहमदाबाद में आयोजित इस कूच में शामिल होने कन्हैया कुमार भी गए हुए थे जिन्हें बिना किसी कारण के गिरफ्तार कर लिया गया है।कन्हैया के साथ-साथ जिग्नेश, रेशमा पटेल और रजा की भी गिरफ़्तारी हुई है। पुलिस के तरफ से कोई भी जानकारी नही दी जा रही है कि इनलोगों को गिरफ्तार करके कहाँ पर रखा गया है। इस गिरफ्तारी के खिलाफ एक बार फिर से सड़क पर प्रगतिशील लोगों का प्रतिक्रिया देखने को मिल सकता है

और पढ़े -   इशरत जहां एनकाउंटर मामले में सुप्रीम कोर्ट ने दो आईपीएस आधिकारी को नौकरी से हटाया

नीचे क्लिक करके विडियो देखें


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE