नई दिल्ली: देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किए गए जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार की जमानत पर आज दिल्ली हाईकोर्ट अपना फैसला सुना सकता है। इस मामले में सोमवार को सुनवाई पूरी हो चुकी है। हाईकोर्ट में दिल्ली पुलिस ने कन्हैया को बेल दिए जाने का विरोध किया था, जबकि दिल्ली सरकार के वकील ने उसे ज़मानत दिए जाने की पैरवी की थी। 9 फरवरी को जेएनयू में एक कार्यक्रम के दौरान कुछ लोगों की ओर से देश विरोधी नारेबाज़ी की गई थी। इस मामले में पुलिस ने 13 फरवरी को कन्हैया कुमार को गिरफ्तार किया था। कन्हैया कुमार ने अपने बयान में कहा था कि उसने कैंपस में कोई देश विरोधी नारा नहीं लगाया था।

JNU : देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किए गए कन्हैया की जमानत पर फैसला आजजेएनयू के छात्र करेंगे मार्च
कन्हैया कुमार की रिहाई को लेकर आज जेएनयू के छात्रों की ओर से एक मार्च निकाला जाएगा। यह मार्च दोपहर 2 बजे मंडी हाउस से शुरू होकर संसद भवन तक जाएगा। छात्र संघ के मुताबिक, इस मार्च में कई टीचर और दूसरी यूनिवर्सिटी के छात्र भी शामिल होंगे। छात्र इस मार्च के जरिए केवल कन्हैया कुमार ही नहीं रोहित वेमुला का मामला भी सरकार के सामने उठाएंगे।

स्मृति ईरानी पर आरोप
जेएनयू से जुड़े कई छात्रों का मानना है कि कन्हैया और रोहित वेमुला के मामले में न्याय नहीं हो रहा है। छात्रों का आरोप है कि केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी अपने पद का दुरुपयोग कर रही हैं और संसद में गलत (NDTV)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें