amarnath7

जम्मू एवं कश्मीर में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 1ए पर दुर्घटना में घायल अमरनाथ तीर्थ यात्रियों को बचाने के लिए स्थानीय मुस्लिमों ने बुधवार को अपनी जान जोखिम में डाल कर उन्हें अस्पताल पहुंचाया. इस हादसे में एक स्थानीय बस ड्राइवर की मौत हो गई और 28 श्रद्धालु घायल हुए हैं.

पुलिस ने बताया कि कश्मीर घाटी में हुई हिंसा में दो लोगों की मौत पर मातम मना रहे बिजबेहरा शहर के मुस्लिम लोगों ने कर्फ्यू तोड़कर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया और इसके लिए उन्होंने अपना जीवन भी संकट में डाल दिया. जिस वक्त हाइवे नंबर 1A पर एक्सीडेंट हुआ, हाइवे पर कोई नहीं था. पर एक्सीडेंट का पता चलते ही बिजबेहरा टाउन के लोग कर्फ्यू तोड़ते हुए एक्सीडेंट वाली जगह पर भागे. स्थानीय मुस्लिम अपनी गाड़ियों में बिठाकर तीर्थयात्रियों को अस्पताल ले गए. कुछ लोगों को श्रीनगर ले जाकर हॉस्पिटल में भर्ती कराया.

और पढ़े -   भारत में क़तर रियाल को बदलने में किसी भी प्रकार की रोक नहीं: आरबीआई

आपको ये भी बता दें कि बुरहान वानी की मौत के बाद अबतक घाटी में 35 लोगों की मौत हो चुकी है. हिंसा में मारे गए 34 लोगों में 32 लोग दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग, शोपियां, कुलगाम और पुलवामा जिलों के रहने वाले थे जबकि एक-एक व्यक्ति श्रीनगर और कुपवाड़ा जिले के रहने वाले थे.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE