नई दिल्ली। देशभर के सर्राफ़ा कारोबारी बजट में प्रस्तावित एक्साइज़ ड्यूटी के ख़िलाफ़ 12 दिन से लगातार हड़ताल पर हैं। कारोबारियों ने काम ठप कर रखा है और नए प्रावधानों को वापस लेने की मांग पर अड़े हुए हैं।

देशभर के सर्राफ़ा कारोबारी मोदी सरकार के ख़िलाफ़ 12 दिन से हड़ताल पर, 17 को दिल्ली कूच करेंगे एक्साइज़ ड्यूटी में बदलाव की कोशिश यूपीए सरकार में भी हुई थी, तब गुजरात के सीएम रहे नरेंद्र मोदी ने इसका विरोध किया था। 28 मार्च 2012 को किए गए इस ट्वीट में नरेंद्र मोदी ने तब गैर ब्रांड ज्वेलरी पर लगाई गई एक्साइज़ ड्यूटी वापस लेने की मांग की थी।

चूंकि कारोबारियों की मांग पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आ रही है, इसलिए उन्होंने 17 मार्च को दिल्ली में इकट्ठा होकर प्रदर्शन करने की तैयारी कर ली है।
तब उन्होंने कहा था कि मैंने केंद्र सरकार से गैर ब्रांड ज्वेलरी पर एक्साइज़ ड्यूटी और ज्वेलरी की ख़रीद पर टीडीएस का प्रावधान वापस लेने को कहा है। एक प्रतिशत एक्साइज़ ड्यूटी लगाने से देश में इंस्पेक्टर राज लौट आएगा।
इस मुद्दे पर विपक्ष से लेकर दिल्ली के आम आदमी पार्टी तक ने उन्हें घेरना शुरू कर दिया है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया है, ‘देश के अलग-अलग हिस्सों के ज्वेलरी एसोसिएशन के प्रतिनिधियों से मुलाक़ात की जिन्होंने एक्साइज़ ड्यूटी के लघु उद्योग को प्रभावित करने और हज़ारों कारीगरों के सामने रोज़गार का संकट पैदा होने की चिंता ज़ाहिर की’
आम आदमी पार्टी ने ट्वीट किया है, ‘गुजरात में मोदी ने इस एक्साइज़ ड्यूटी के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई थी. ऐसा क्या है कि तब ये स्वीकार्य नहीं थी, लेकिन अब है।’
प्रदर्शनकारी समेत विपक्षी दलों के समर्थक नरेंद्र मोदी और सुषमा स्वराज का पुराना ट्वीट भी शेयर कर रहे हैं। 4 अप्रैल 2012 को सुषमा ने लिखा था, ‘हम ग़ैर ब्रांड ज्वेलरी पर एक्साइज़ ड्यूटी हटाने की मांग कर रहे हैं और इस संबंध में मैंने प्रणब मुखर्जी से मुलाक़ात भी की है।’
सर्राफ़ा कारोबारियों का आरोप है कि ग़ैर ब्रांडेड ज्वेलरी पर एक्साइज़ ड्यूटी इस क्षेत्र के व्यापार को भी बड़े उद्योगपतियों के देने की तैयारी का हिस्सा है। ये भी कहा जा रहा है कि देश के लाखों सर्राफ़ा व्यापारियों के सामने रोज़ी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है। 12 दिनों से हमारी दुकानें बंद हैं यह हमारे लिए अच्छे दिन नहीं बल्कि बुरे दिन हैं।
ऑल इंडिया सर्राफ़ा एसोसिएशन उपाध्यक्ष सुरेंद्र कुमार जैन ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा, “जब तक सरकार एक्साइज़ ड्यूटी में बढ़ोत्तरी को वापस नहीं लेगी, तब तक हड़ताल जारी रहेगी। (liveindiahindi)

लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें