15 वर्षीय हाफिज जुनैद की हत्या के मामले में जुनैद के परिजनों ने कोर्ट से बाहर मामला सुलझाने से परिवार ने इंकार कर दिया है. जुनैद के परिवार ने कहा कि अगर 100 करोड़ रूपये समझौते में भी दिए जाए तो भी वे समझौता नहीं करेंगे.

दरअसल, गुरुवार को अदालत में सुनवाई के दौरान अतिरिक्त अधिवक्ता जनरल दीपक सभरवाल ने दावा किया था कि जुनेद के पिता पर आरोप लगाया की समझौते के लिए उन्होंने 2 करोड़ रुपये और कुछ ज़मीन की मांग की थी. कोर्ट में दीपक सभरवाल ने कहा कि डिप्टी सुप्रींटेंडेंट द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार जुनैद का परिवार चाहता है कि कोर्ट की कार्यवाही देरी से हो और वे आरोपियों के परिवार से समझौता करने के लिए पैसों की मांग कर रहे हैं.

इस पर जुनैद के पिता ने कि ‘अगर मुझे 100 करोड़ रुपया भी दिया जाता है तो भी मैं समझौते के लिए तैयार नहीं हूँ. जलालुद्दीन ने कहा कि मुझे इस मामले की शुरुआत से पहले दबाव डाला जा रहा था. मुझे कुछ पैसे और जमीन लेकर समझौता और मामले को वापस लेने के लिए कहा गया था, लेकिन मैंने खुले तौर से इनकार कर दिया. इसलिए भाजपा सरकार मुझे झूठा साबित करने की कोशिश कर रही है.

उन्होंने कहा कि पंचायत और आरोपियों के गांव के लोग चाहते हैं कि केस में समझौता किया जाए ताकि भाई चारा बने रहे लेकिन हम इसमें नहीं झुकेंगे. हम सिर्फ फैसले का इंतजार कर रहे हैं.

ध्यान रहे दिल्ली से ईद की शोपिंग कर लौट रहे हाफिज जुनैद की 22 जून को बल्लभगढ़ में चलती ट्रेन के अंदर भगवा विचारधारा से प्रेरित कुछ लोगों ने चाकुओं से गोद कर हत्या कर दी थी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE