नई दिल्ली (30 जनवरी):आईआईटी प्रोफेसर जगदीश कुमार को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने प्रतिष्ठित जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी का कुलपति नियुक्त किया है। जगदीश कुमार को उन चार नामों के एक पैनल से चुना गया है, जिसमें वैज्ञानिक वीएस चौहान का नाम भी शामिल था। बताया जा रहा है कि चौहान प्रतिष्ठित संस्थान की अगुवाई के लिए मानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी की पहली पसंद थे। जिन्हें राष्ट्रपति ने नियुक्त नहीं किया है।

रिपोर्ट के मुताबिक, मानव संसाधन मंत्रालय ने राष्ट्रपति को चार नाम भेजे थे। स्मृति ईरानी ने चौहान के नाम को उनकी पहली पसंद बताया था। चौहान एक वैज्ञानिक हैं जो जेनेटिक इंजीनियरिंग और बायोटैक्नॉलॉजी के क्षेत्र में काम करते रहे हैं। साथ ही मलेरिया की वैक्सीन के विकास में योगदान के लिए प्रतिष्ठित हैं।

चौहान यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन (यूजीसी) के सदस्य भी हैं। उन्हें भूतपूर्व यूपीए सरकार की तरफ से ‘पद्मश्री’ सम्मान भी दिया गया था। हालांकि, राष्ट्रपति ने आईआईटी-दिल्ली के प्रोफेसर जगदीश कुमार को जेएनयू के कुलपति के पद पर नियुक्त किया है। उन्होंने ईरानी के सुझाव को अस्वीकार कर दिया है।

बताया गया, कि राष्ट्रपति की तरफ से मंत्रालय की तरफ से सुझाए गए नामों के अनुरूप फैसला लेने का कोई दायित्व नहीं बनता। लेकिन ज्यादातर मामलों में इस मानक का पालन किया जाता है।

पैनल के चार नामों में अन्य नामों में अकादमिक आरएनके बेमेज़ई और रामकृष्ण रामस्वामी का नाम भी शामिल था। हालांकि, इस मामले में राष्ट्रपति और मानव संसाधन मंत्रालय के आधिकारिक प्रवक्ताओं से जब संपर्क किया गया तो उन्होंने कोई भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है। (News24)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें