umar-1-620x400

नई दिल्ली: जेएनयू छात्र उमर खालिद पिछले 11 दिनों से लगातार भूख हड़ताल कर रहे थे. उनके शरीर में शुगर, सोडियम और पोटेशियम के स्तर में काफी गिरावट आ गई थी. जिसके कारण उन्हें आज एम्स ले जाया गया.

जेएनयू में हुए 9 फरवरी के विवादित कार्यक्रम में शामिल रहने पर उमर खालिद विश्वविद्यालय प्रशासन ने एक सेमेस्टर के लिए निष्कासित कर दिया था. 11 दिनों की हड़ताल के बाद स्वास्थ्य कारणों से मजबूर होकर उमर खालिद को भूख हड़ताल समाप्त करनी पड़ी.

और पढ़े -   आडवाणी का राष्ट्रपति बनने का सपना टुटा, बिहार के राज्यपाल होंगे एनडीए की ओर से उम्मीदवार

उमर खालिद के भूख हड़ताल ख़त्म करने के बाद भी 13 अन्य छात्र अभी भी भूख हड़ताल पर हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE