naj

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्र नजीब अहमद को कैंपस से गायब हुए 9 दिन से ऊपर गुजर चुके हैं. ऐसे में छात्रों का गुस्सा कारवाई न होते देख बढता ही जा रहा हैं. छात्रसंघ व शिक्षक यूनियन इस पूरे मामले में एबीवीपी को जिम्मेदार बताते हुए विश्वविद्यालय प्रबंधन को दोषी बताया हैं.

छात्रों ने एक बार फिर उग्र तेवर अख्तियार करते हुए जेएनयू के वीसी जगदीश कुमार को उनके घर में बंद कर दिया. बीती रात को ट्वीट कर उन्होंने कहा कि ‘पहले छात्रों ने मुझे जेएनयू की एडमिन बिल्डिंग में कैद करने की कोशिश की थी. अब वे मुझे मेरे आवास में कैद करने की कोशिश कर रहे हैं.’

छात्रों की मांग हैं कि दिल्ली पुलिस को 14 अक्तूबर की रात नजीब से मारपीट करने वाले एबीवीपी के तीन छात्रों से भी पूछताछ करनी चाहिए. पूछताछ के लिए उन सभी के फोन रिकॉर्ड की भी जांच होनी जरूरी है. इसके अलावा दिल्ली पुलिस जांच संबंधी हर दिन का अपडेट भी विश्वविद्यालय समेत छात्रों से साझा करे, ताकि सही जानकारी मिल सके.

छात्रसंघ पदाधिकारियों का कहना है कि एबीवीपी के अलावा विश्वविद्यालय प्रबंधन भी इस पूरे मामले में  दोषी है क्योंकि उन्होंने इस मामले में नजीब अहमद का पक्ष नहीं जाना था. इस मामले में अब बिना देरी किए तीन आरोपी छात्रों से पूछताछ करनी जरूरी है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें