हरियाणा में जाट आंदोलन की आग रूकने का नाम ही नहीं ले रही है। जाट कम्युनिटी ने रविवार को भी जमकर हंगामा किया। आंदोलनकारियों ने गुडग़ांव में दो रेलवे स्टेशन पर आग लगा दी। वहीं भिवानी एक बैंक का ऑफिस फूंक दिया।

बता दें कि आंदोलनकारियों की भीड़ में घुसे असमाजवादी तत्वों ने कई स्थानों पर सरकारी संपत्तियों, बसों और दूसरे निजी वाहनों और संपत्तियों को जलाकर राख कर दिया। कई स्थानों पर राजमार्ग बाधित किए गए। जगह-जगह पर रेलगाडिय़ों की पटरी उखाडऩे से रेल सेवाएं बंद करनी पड़ीं। हालात बिगड़ते देख सेना बुलानी पड़ी और हिंसाग्रस्त हिसार, सोनीपत और जींद जिलों में कर्फ्यू लगा दिया गया। इसके अलावा रोहतक, भिवानी, झज्जर, कैथल जिलों में भी हिंसा की कई घटनाएं देखी गईं। हरियाणा सरकार ने स्थिति पर काबू पाने के लिए 6 शहरों में कर्फ्यू लगा दिया है।

हरियाणा के छह शहरों रोहतक, भिवानी, झज्जर, सोनीपत, जींद और गोहाना में भी सेना ने शनिवार सुबह फ्लैग मार्च किया हैफ प्रदेश के आठ जिले अब सेना के हवाले हैं। प्रदर्शनकारियों ने हरियाणा से आने वाली मुनक नहर का पानी रोक दिया है, जिसका सीधा असर दिल्ली की सप्लाई पर पड़ा है।दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने सीएम मनोहर लाल खट्टर से इस बाबत बात की है और बताया जाता है कि नहर की सुरक्षा के लिए सेना की तैनाती की जाएगी।

खट्टर ने जाटों को आरक्षण देने का ऐलान किया:
उग्र होते आंदोलन के बीच हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने आर्थिक रूप से पिछड़े जाटों को आरक्षण देने का ऐलान किया है। खट्टर ने पीएम नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह को हालात की जानकारी दी। इस संबंध में दिल्ली में राजनाथ सिंह के घर हुई रिव्यू मीटिंग में मनोहर पर्रिकर, सुषमा स्वराज, अरुण जेटली और अजीत डोभाल शामिल हुए।

31 तक रिपोर्ट:
हंगामा बढ़ता देख खट्टर ने आर्थिक पिछड़े जाटों को आरक्षण का ऐलान किया। सर्वदलीय बैठक बुला आरक्षण समीक्षा के लिए कमेटी का फैसला किया, जो 31 मार्च तक रिपोर्ट देगी। विधानसभा में बिल लाया जाएगा। (News24)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें