नई दिल्ली : मानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी की डिग्री के विवाद मामले में अब दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने कहा है कि यूनिवर्सिटी के डॉक्यूमेंट को कोर्ट में पेश किया जाए। कोर्ट ने दिल्ली यूनिवर्सिटी को आदेश दिया कि स्मृति ईरानी के स्नातक में एडमिशन से जुड़े सभी डॉक्यूमेंट कोर्ट में जमा किए जाएं।

spelling-mistake-on-smriti-iranis-letterhead

साथ ही कोर्ट ने चुनाव आयोग भी आदेश दिया है कि स्मृति ईरानी ने जो डिग्री सम्बंधित दस्तावेज उन्हें कोर्ट के सामने पेश किया जाए।
कोर्ट ने कहा ‘स्मृति ईरानी ने चुनाव के समय जो हलफनामा दिया था, वह कोर्ट में जमा किया जाए, ताकि स्थिति स्पष्ट हो सके। कोर्ट की अगली सुनवाई 3 मई को होगी। गौरतलब है कि स्मृति ईरानी पर आरोप है कि उन्होंने दो चुनावों में शिक्षा सम्बंधित हलफनामों में उन्होंने जो जानकारी दी है उनमे आपस में समानता नही है। (इंडिया संवाद)

लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें