इलाहाबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रो. रतनलाल हंगलू ने मानव संसाथन मंत्री स्मृति ईरानी पर यूनिवर्सिटी के कामकाज में दखल करने का आरोप लगाते हुवे कहा कि स्मृति ईरानी और बीजेपी के सांसद यूनिवर्सिटी की स्वायत्तता को खत्म करने का काम कर रहे हैं. अगर ऐसा आगे भी जारी रहा तो वे अपना इस्तीफा दे देंगे. हंगलू करीब चार महीने पहले ही इलाहाबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी के वीसी बने हैं.

और पढ़े -   सुप्रीम कोर्ट ने मोदी सरकार से पुछा: आखिर क्यों नहीं खा सकता आम आदमी गोश्त

वीसी रतन लाल हंगलू ने नये सेशन से सभी इंट्रेंस एग्जाम सिर्फ आन लाइन ही कराए जाने का एलान किया था. लेकिन यूनिवर्सिटी में दाखिले की प्रक्रिया शुरू होते ही छात्रों ने इंट्रेंस एग्जाम को ऑफ लाइन कराने की मांग को लेकर प्रदर्शन शुरू कर दिया.भदोही औऱ कौशाम्बी से बीजेपी सांसद समेत बीजेपी के कई दूसरे नेताओं ने छात्रों के आंदोलन का समर्थन कर इसकी शिकायत स्मृति ईरानी से की. स्मृति ईरानी ने वीसी के फैसले को पलटते हुए सभी इंट्रेंस एग्जाम में आफ लाइन का भी विकल्प दे दिया.

और पढ़े -   पनामा पेपर्स में नाम आने के बाद अमिताभ बच्चन समेत अन्य हस्तियों की जानकारिया जुटाने में लगा आयकर विभाग

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE