भारत ने स्वदेश में विकसित ‘पृथ्वी दो’ मिसाइल का सफल प्रक्षेपण किया

भारत ने आज ओडिशा में चांदीपुर परीक्षण रेंज से परमाणु क्षमता संपन्न और स्वदेश में विकसित ‘पृथ्वी दो’ मिसाइल का सफल प्रक्षेपण किया। यह सेना के उपयोग के लिहाज से प्रायोगिक परीक्षण था। सतह से सतह पर मार करने में सक्षम इस मिसाइल का परीक्षण सुबह करीब 9 बजकर 40 मिनट पर किया गया।

350 किलोमीटर की मारक क्षमता वाली पृथ्वी 2 मिसाइल 500 से एक हजार किलोग्राम तक के आयुध ले जाने में सक्षम है और इसमें लिक्विड प्रोपल्शन ट्विन इंजन लगे हैं। सूत्रों ने बताया, मिसाइल के प्रक्षेपण पर डीआरडीओ राडार, इलैक्ट्रो आप्टिकल ट्रैकिंग सिस्टम से निगरानी की गई।

और पढ़े -   जनधन योजना से लेकर मेक इन इंडिया जैसी मनमोहन सरकार की 28 योजनाओ को मोदी ने नाम बदलकर किया शुरू ?

भारतीय सशस्त्र बल में वर्ष 2003 में शामिल की गई नौ मीटर लंबी पृथ्वी-2 मिसाइल पहली ऐसी मिसाइल है, जिसे डीआरडीओ ने भारत के प्रतिष्ठित आईजीएमडीपी (इंटीग्रेटिड गाइडिड मिसाइल डेवलपमेंट प्रोग्राम) के तहत विकसित किया गया है।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE