भारतीय मूल के 14 वर्षीय मंसूर अनीस सिंगल-इंजन विमान उड़ाकर विश्व के यंगेस्ट पायलट बन गए हैं. मंसूर ने यह उपलब्धि कनाडा में एक इंजन वाले विमान को उड़ाकर हासिल की. उन्होंने करीब 10 मिनट तक यह विमान उड़ाया.

मंसूर 9वीं कक्षा के छात्र हैं, उन्हें पिछले सप्ताह कनाडा की ए.ए.ए. एविएशन फ्लाइट अकादमी ने उनकी इस उपलब्धि का प्रमाण पत्र दिया. प्रमाण पत्र में लिखा है,‘‘ मंसूर ने 14 साल की उम्र में लेंगले रीजनल एयरपोर्ट से सफलतापूर्वक विमान उड़ाकर अपनी पहली एकल उड़ान पूरी की.’’

और पढ़े -   गुजरात, हिमाचल विधानसभा चुनावों के लिए VVPAT का प्रयोग हुआ अनिवार्य

इस दौरान मंसूर ने दो वर्ल्ड रिकॉर्ड भी तोड़े है. उन्होंने अमेरिका और जर्मनी के पायलटों का रिकॉर्ड तोड़ा, जिन्होंने 34 घंटे का प्रशिक्षण लेने के बाद विमान उड़ाया था. मंसूर के पिता अली अनीस नागपुर के हैं और वहां बिल्डर हैं, जबकि मां मुनेरा फैजी उज्जैन की रहने वाली हैं.

मंसूर ने दावा किया कि उन्होंने सबसे कम समय (25 घंटे) का प्रशिक्षण लेकर यह कारनामा किया है. मंसूर को इस उपलब्धी के बूते बिना किसी फ्लाइंग टेस्ट के स्टूडेंट पायलट पर्मिट मिल गया है.

और पढ़े -   ममता की आरएसएस और उससे जुड़े संगठन को चेतावनी कहा, आग से मत खेलो

मंसूर ने कनाडा परिवहन में योग्यता साबित करने के लिए रेडियो कम्यूनीकेशन टेस्ट भी पास किया है और PSTAR टेस्ट में 96 फीसद मार्क्स हासिल किए हैं।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE