bsf1

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे के दबाव के कारण अपनी फिल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ की रिलीज़ को लेकर करन जोहर के इंडियन आर्मी फण्ड में 5 करोड़ रुपये के दान देने की पेशकश को भारतीय सेना ने लेने से इनकार कर दिया.

रक्षा मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार, मंत्रालय अब ऐसे नियम बनाने जा रहा है, जिसके तहत मजबूरन दिए गए दान पर रोक लगाई जा सके. रक्षा मंत्रालय ने इस तरह के दान को नेक काम की भावना के खिलाफ मानते हुए गलत बताया है.

और पढ़े -   असम में पाकिस्तान का झंडा फहराने पर एक शख्स की जमकर हुई पिटाई, झंडे पर पेशाब करने के लिए भी डाला दबाव

मंत्रालय के अधिकारी अनुसार, ‘हम एक अभूतपूर्व स्थिति का सामना कर रहे हैं. ऐसा पहले कभी नहीं हुआ जब बैटल कैजुअल्टी वेलफेयर फंड बनाया गया हो.’ इसके तहत दान केवल बैंकों के माध्यम से ही अनुमन्य है, विदेशी स्रोतों से नहीं. अधिकारी ने कहा, ‘अवांछित रुपये दान किए जाने के मुद्दे को लेकर कई विकल्पों पर विचार-विमर्श किया गया.

उन्होंने आगे कहा, करण जौहर की तरफ से दिया जा रहा दान एमएनएस नेता राज ठाकरे की धमकी के बाद दिया जा रहा है, जिन्होंने इसे पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम करने के दंड के रूप में उन पर थोपा है.

और पढ़े -   महिला पार्षद ने गुजरात के उप मुख्यमंत्री के ऊपर फेंकी चुडिया , भ्रष्टाचार का लगाया आरोप

गौरतलब रहें कि पाक कलाकार फवाद खान के फिल्म में हिस्सा होने के कारण फिल्म का विरोध कर रहे राज ठाकरे ने फिल्म निर्माता करन जौहर को मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस की सलाह पर फिल्म रिलीज़ के लिए 5 करोड़ रुपये आर्मी फण्ड में जमा कराने को कहा था.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE