beef1

केंद्र में राष्ट्रवादी हिंदू धारणा समर्थित सरकार के बनने के बावजूद भी वर्तमान समय में भारत, विश्व में गोमांस का सबसे बड़ा निर्यातक है. और आगे भी वैश्विक गोमांस कारोबार में अग्रणी बना रहेगा. इतना ही नहीं मात्रा के लिहाज से यह वैश्विक गोमांस कारोबार की अगुवाई करेगा.

इस बात का खुलासा बीएमआई रिसर्च ने एक रिपोर्ट में किया हैं. जिसमे कहा गया कि ‘सस्ते और भैंस मांस के उत्पादन में भारत की महारत है और वह मात्रात्मक लिहाज से वैश्विक गोमांस कारोबार में अग्रणी बना रहेगा क्योंकि एशिया और पश्चिम एशिया में सस्ते मांस की मांग बढ रही है.

और पढ़े -   मालेगांव ब्लास्ट: कर्नल पुरोहित के बाद अब दो और आरोपियों को मिली जमानत

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि महाराष्ट्र में गोवध व गोमांस पर प्रतिबंध लगे हुए लगभग एक साल होने को आया है पर भारत का गोमांस क्षेत्र आज भी सबसे तेजी से बढ़ते कृषि कारोबार बाजारों में से एक बना हुआ है. रिपोर्ट के अनुसार ‘राष्ट्रवादी हिंदू भावना के उभार के बावजूद भारत का गोमंास क्षेत्र देश के कृषि कारोबार में चमकता बिंदु बना रहेगा.’

और पढ़े -   बाबरी मस्जिद विध्वंस के 25वे साल 2 लाख 'धर्म योद्धा' उतारेगी विश्व हिन्दू परिषद

बीएमआई रिसर्च की रिपोर्ट में कहा गया है,‘ हमारा अनुमान है कि गोमांस उत्पादन 2016-2020 में चार प्रतिशत सालाना की दर से बढक़र 51 लाख टन हो जाएगा.’ गौरतलब रहें कि इस समय भारत गोमांस का सबसे बड़ा निर्यातक है. रिपोर्ट के अनुसार इस लिहाज से भारत ने 2014 में ब्राजील को पछाड़ा था.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE