मुंबई: डीडीसीए मुद्दे को लेकर वित्तमंत्री अरूण जेटली पर हमला करने के कारण भाजपा से निलंबित किए गए क्रिकेटर से नेता बने कीर्ति आजाद जुझारू अंदाज में दिखे और उन्होंने कहा कि वह किसी के भी सामने झुकेंगे नहीं बल्कि भ्रष्टाचार के खिलाफ अपनी लड़ाई में वह जेल तक जाने को तैयार हैं।

kirti-azad-final-17-12-2015-1450321745_storyimage

डीडीसीए को ‘भ्रष्टाचार का वैध संस्थान’ बताते हुए आजाद ने कहा, ‘मैं अदालत जाउंगा और हर किसी का पर्दाफाश करूंगा। तब मेरी पार्टी मेरी तारीफ करेगी। मैं जेल जाने को भी तैयार हूं लेकिन जब तक मैं जिंदा हूं मैं भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ता रहूंगा।’ उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री कहते हैं कि किसी को भी भ्रष्टाचार नहीं करने देंगे। उन्हें इस मुद्दे को संज्ञान में लेना चाहिए।

मैंने अब के वित्त मंत्री और तत्कालीन डीडीसीए प्रमुख को 200 पत्र, 500 ईमेल भेजे। यहां तक कि बिशन सिंह बेदी ने भी उन्हें चिट्ठी लिखी.. लेकिन मैंने किसी का नाम नहीं लिया। मेरी मांग केवल यह है कि भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई हो।’ पत्रिका ‘मिथिला दर्पण’ की ओर से यहां देर रात आयोजित एक समारोह में कांग्रेस नेता संजय निरूपम के साथ आजाद को सम्मानित किया गया।

साभार http://zeenews.india.com/


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें