सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष पहलाज निहानी ने कहा है, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का चमचा होने में उन्हें कोई आपत्ति नहीं है.” फ़िल्म ‘उड़ता पंजाब’ को लेकर हो विवाद के बीच एक समाचार चैनल से बातचीत में निहलानी ने कहा, “बिल्कुल, मैं चमचा हूँ. अपने प्रधानमंत्री का चमचा होने में मुझे कोई आपत्ति नहीं है.”

निहलानी ने आगे कहा, “मैं सवा सौ करोड़ में से ही एक हिंदुस्तानी हूँ. मैं अपने प्रधानमंत्री का चमचा नहीं होऊंगा तो क्या इटली के प्रधानमंत्री का चमचा होऊंगा.”

और पढ़े -   देश में हिंदू आएं तो शरणार्थी, मुस्लिम आएं तो आतंकवादी: स्वामी अग्निवेश

निलहानी ने निर्माता अनुराग कश्यप पर भी आरोप लगाया कि उन्होंने ‘उड़ता पंजाब’ फिल्म आम आदमी पार्टी से पैसे लेकर बनाई है. आम आदमी पार्टी ने उनके इस बयान की कड़ी निंदा की और ‘उड़ता पंजाब’ को रिलीज करने की मांग भी की.

उधर, फ़िल्म में कांट छांट को लेकर भारतीय फ़िल्म और टीवी निर्देशक संघ ने भी निलहानी की आलोचना की और उन पर राजनीतिक प्रभाव में काम करने का आरोप लगाया.

और पढ़े -   रोहिंग्या शरणार्थियों की आने की संभावना के चलते भारत ने म्यांमार के साथ की अपनी सीमा सील

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE