hyderabad-university-revokes-suspension-of-4-dalit-students

हैदराबाद: हैदराबाद में छात्र रोहित वेमूला की खुदकुशी के मामले में राजनीति तेज होने के बाद हैदराबाद यूनिवर्सिटी ने गुरुवार को चारों छात्रों का निलंबन वापस ले लिया है। जानकारी यह भी मिली है कि 15 दलित टीचरों में इस मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पर तथ्यों के साथ छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया और अपने पदों से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद प्रशासन ने इन चारों छात्रों का निलंबन वापस ले लिया।

दिल्ली के सीएम केजरीवाल भी आज रोहित वेमूला के परिवार और छात्रों से मिलने पहुंचे थे। यहां उन्होंने स्मृति ईरानी पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्होंने एक के बाद एक झूठ बोला। उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि रोहित की जाति को लेकर विवाद खड़ा करने की कोशिश की जा रही है।

खुदकुशी से नाराज प्रदर्शन कर रहे छात्र काफी समय से मांग कर रहे हैं कि केंद्रीय मंत्री बंडारू दत्तात्रेय और यूनिवर्सिटी प्रशासन के खिलाफ कार्रवाई की जाए। उनका कहना है कि जब तक कार्रवाई नहीं होगी तब तक प्रदर्शन जारी रहेगा।

एक और बात सामने आई है। रोहित समेत अंबेडकर छात्र संगठन के उसके साथी छात्रों पर एबीवीपी के छात्र नेता सुशील कुमार के साथ मारपीट के आरोप लगे थे। इसी को आधार बनाकर इन छात्रों को निलंबित किया गया था। सुशील कुमार की मेडिकल रिपोर्ट से ये बात सामने आई है कि उसके शरीर पर डॉक्टरों को चोट के निशान नहीं मिले। पता चला है कि वह हॉस्पिटल में अपेंडिक्स के चलते भर्ती हुआ था, न कि चोटों के चलते।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें