modi333

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को केंद्रीय सतर्कता आयोग के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार का काम ईमानदार कर्मचारियों का संरक्षण सुनिश्चित करना होना चाहिए और उन्हें प्रोत्साहित किया जाना चाहिए.

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘यह सच है कि लोग कानून से नहीं डरते. सरकार में भी अगर वह (कर्मचारी) निलंबित होते हैं, वह जानते हैं कि उन्हें 50 प्रतिशत वेतन मिलता रहेगा। उसके बाद विभागीय जांच होगी जिसे मैनेज कर लिया जाएगा. जैसी ही जांच पूरी होगी, उन्हें बहाल कर दिया जाएगा और अंतत: उन्हें सभी बकाया मिल जाएंगे.’

उन्होंने आगे कहा, ‘जो ईमानदारी से काम करना चाहता है, उसके लिए इस तरह की प्रणाली समस्या पैदा कर रही है. ऐसे में सरकार का काम ईमानदार लोगों का संरक्षण सुनिश्चित करना है और उन्हें उनका उचित हिस्सा दिलाना है. हमें इस पर जोर देना होगा.’ प्रधानमंत्री ने कहा कि आम लोग और देश के अधिकांश सरकारी कर्मचारी बेइमान नहीं हैं.

पीएम मोदी ने कहा, ऐसे लोगों का बहुत बड़ा समूह है जो ईमानदारी से जीवन व्यतीत कर रहा है, लेकिन कुछ लोगों की वजह से ऐसी धारणा (कि सभी कर्मचारी भ्रष्ट हैं) बनी है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें