नई दिल्ली | केन्द्रीय गृह मंत्रालय की सालना रिपोर्ट में बहुत बड़ी गड़बड़ी सामने आई है. इस गड़बड़ी की वजह से मंत्रालय को काफी शर्मिंदगी झेलनी पड़ रही है. मामले के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद गृह मंत्रालय के सचिव ने अधिकारियो से स्पष्टीकरण माँगा है. इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा की अगर इसमें गलती सामने आई तो वह इस पर माफ़ी भी मांगेंगे.

दरअसल गृह मंत्रालय ने 2016-17 की सालाना रिपोर्ट जारी की है. इस रिपोर्ट में बताया गया है की पाकिस्तान की और से आतंकियों और घुसपैठियों को रोकने के लिए भारत-पाक सीमा पर फ्लडलाइट लगाई गयी है. लेकिन इसको प्रदर्शित करने के लिए जिस तस्वीर का सहारा लिया गया वो स्पेन-मोरक्को सीमा की है. यह चुक उस समय पकड़ी गयी जब सोशल मीडिया में यह तस्वीर वायरल होना शुरू हो गयी.

इस तस्वीर को 2006 में स्पैनिश फोटोग्राफर जेवियर मोरयानो ने ली थी. यह तस्वीर अफ्रीका के नॉर्थ कोस्ट पर मोरक्को और स्पेन सीमा पर लगी फ्लडलाइट को दर्शाते हुए खींची गयी थी. इसी तस्वीर को गृह मंत्रालय ने भारत पाक सीमा पर लगी फ्लड लाइट को दर्शाने के लिए इस्तेमाल किया गया. इसके बाद गृह सचिव राजीव महऋषि ने अधिकारियो को नोटिस जारी कर इस बारे में सफाई मांगी.

उन्होंने कहा की इस तस्वीर को इस्तेमाल करने की कोई जरुरत नही थी. हमारे पास सीमा की काफी अच्छी अच्छी तस्वीरे मौजूद है. उनको इस्तेमाल किया जा सकता था. हम इस बात का पता लगा रहे है की यह तस्वीर कहाँ से आई और अगर गलती हुई तो हम इसके लिए माफ़ी भी मांगेंगे. यही नही इस मामले में बीएसएफ से भी सफाई मांगी गयी है. बताते चले की बीएसएफ ही सीमा पर ली गयी तस्वीरो को मुहैया कराती है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE