nand

राजस्थान के जैसलमेर में पकिस्तान का एक एजेंट पकड़ा गया हैं. पाकिस्तानी पासपोर्ट पर भारत आए एजेंट नंदलाल महाराज को गिरफ्तार किया गया है. ये जासूस खिप्रो सानगढ़ पाकिस्तान का रहने वाला है.

नंदलाल ने पूछताछ में स्वीकार किया है कि वह भारत में आतंकी हमले को अंजाम देने के मकसद से आया था. इसके लिए वह पाकिस्तान से 35 किलो RDX भी भारत लाया था. लेकिन अब तक ये पता नहीं चल पाया है कि हमलें के लिए ये आरडीएक्स कहां-कहां पहुंचा है.

नंदलाल के पास से बड़ी संख्या में सैन्य ठीकानों के नक्शे और आस-पास के फोन नंबर भी मिले हैं. आरडीएक्स की बरामदगी और पता लगाने के लिए एंटी टेररिस्ट स्क्वायड की टीम पहुंच रही है, जबकि एनआईए को भी सूचना दी जा रही है.

गिरफ्तार पाकिस्तानी एजेंट के पास से एक डायरी भी बरामद हुई है, जिसमें सारे डिटेल लिखे हैं. इसमें लिखा हुआ कि कब-कब पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी इसके खाते में पैसे डालती थी. इसके काम के बदले आईएसआई 10 से लेकर 60-70 हजार तक देती थी. नंदलाल का पूरा परिवार पाकिस्तान में है, लेकिन पैसों के लालच में ये पाकिस्तान के लिए जासूसी करने के लिए तैयार हो गया.

नंदलाल के साथी इसकी गिरफ्तारी की सूचना मिलते ही फरार हो गए हैं, जिन्हें पकड़ने के लिए कवायद की जा रही है. नंदलाल महराज पाकिस्तान में टेक्सटाइल का शोरुम चलाता है लेकिन पैसों के लालच में ये पाकिस्तान के लिए जासूसी करने के लिए तैयार हो गया. एजेंट के पास से दो मोबाईल सेट और दर्जनों पाकिस्तानी सिम कार्ड बरामद किए गए हैं. इसकी मदद से वह सरहदी इलाके में जाकर पाकिस्तान बात करता था.

आईबी, रॉ और राजस्थान के इंटेलिजेंस एजेंसी लगातार 48 घंटे से नंदलाल महाराज से जैसलमेर में पूछताछ कर रही हैं.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें