आरएएस के वरिष्ठ पदाधिकारी इंद्रेश कुमार ने पूर्व उपराष्ट्रपति हमिद अंसारी बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि अगर उन्हें देश में असुरक्षित लग रहा है तो वे वहां चले जाएं जहां सुरक्षित लगता हो.

राष्ट्रीय मुस्लिम मंच द्वारा रक्षाबंधन के कार्यक्रम में इंद्रेश कुमार ने कहा कि हामिद अंसारी को किसी ऐसे देश में चले जाना चाहिए जहां पर उन को सुरक्षित महसूस हो.

और पढ़े -   केरल में 'लव जिहाद' मामले की जांच करेगी NIA, सुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेश

उन्होंने कहा कि अंसारी को 3 वर्ष तक मुस्लिम असुरक्षित नजर नहीं आए। पद जाने के बाद एकाएक असुरक्षा भाव जागा. अब अंसारी कांग्रेस के नेता हैं. अंसारी के बयान को कांग्रेस का बयान माना जा सकता है. लेकिन किसी भी कांग्रेस नेता का इस संबंध में बयान नहीं आया है.

इद्रेंश ने कहा कि सबसे बड़ी बात ये है कि अपने आप को सेक्यूलर कहने वाले और देश के सर्वोच्च पद पर आसीन व्यक्ति को दस वर्ष बाद याद आता है कि देश मुसलमानों के लिए सुरक्षित नहीं है. जबकि मुसलमानों की जो प्रतिक्रियाएं आ रही हैं उनमें कहा जा रहा है कि विश्व भर में भारत ही एक ऐसा देश है जहां पर मुसलमान न केवल सुरक्षित हैं बल्कि उन्हें सम्मान की दृष्टि से भी देखा जाता है.

और पढ़े -   शरद यादव के आह्वान पर दिल्ली में एकजुट हुए विपक्षी दल

गौरतलब रहें कि राज्यसभा से अपनी विदाई पर अंतिम भाषण देते हुए निवर्तमान उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने अपरोक्ष रूप से केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि लोकतंत्र में अल्पसंख्यकों की सुरक्षा बेहद जरूरी है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE