gulab chand kataria

अलवर । राजस्थान के अलवर में गौरक्षको की गुंडागर्दी के एक नया मामला सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार यहाँ एक युवक को गौतस्करी के आरोप में बेरहमी से पीटा गया जिससे उसकी मौत हो गयी। हालाँकि इस बात की पुष्टि नही हुई है की युवक पर गौरक्षको ने हमला किया था या नही? गौरक्षको पर इस तरह के आरोप मृत युवक के परिजनो ने लगाए है। उन्ही की शिकायत के आधार पर पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

इसी बीच पूरे मामले पर राजस्थान सरकार के मंत्री ने बेहद ही विवादित बयान दिया है। राज्य के गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया का कहना है की हमारे पास इतनी भी पावर नही होती की हम हर चीज़ समय से पहले कंट्रोल कर ले। गृह मंत्री का यह बयान सरकार के गले की हड्डी बन सकता है क्योंकि विपक्ष की और से सरकार पर पहले ही गौरक्षको को बचाने के आरोप लग रहे है।

इस पूरे मामले पर बोलते हुए गुलाब चंद कटारिया ने कहा की कई बार हमको जानकारी मिलती है और उसी आधार पर कार्यवाही की जाती है। चीज़ें पुलिस गस्त या नाकेबंदी के दौरान सामने आती है। हमारे पास इतनी पावर नही होती की समय से पहले ही चीज़ों को कंट्रोल कर ले। पुलिस मामले में कार्यवाही कर रही है, हमने एक अभियुक्त को पकड़ा है और बाक़ी भी जल्द ही पकड़े जाएँगे। हमें विश्वास है की यह केस जल्द सुलझेगा और जिसने भी अपराध किया है उसके ख़िलाफ़ कार्यवाही होगी चाहे वो किसी भी समुदाय का हो।

मालूम हो कि १० नवम्बर को राजस्थान के अलवर में रेल पटरी के नज़दीक उमर की लाश मिली थी। इससे थोड़ी ही दूर पर एक ट्रक भी बरामद हुआ जिसमें से ५ गाय बरामद हुई। उमर के परिजनो का कहना है की उमर की हत्या गौरक्षको ने की है। उमर के साथ दो और व्यक्ति थी। जिनमें से ताहिर घायल अवस्था में हरियाणा के एक अस्पताल में भर्ती है जबकि जावेद का अभी कुछ भी अता पता नही है।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE