उप राष्ट्रपति चुनाव को लेकर विपक्ष के साझा उम्मीदवार और महात्मा गांधी के पोते गोपालकृष्ण गांधी ने एनडीए के उम्मीदवार वेंकैया नायडू को सीधी बहस की चुनौती दी. गांधी ने कहा है कि यह खुली बहस राज्यसभा टीवी पर होनी चाहिए. इसके लिए उन्होंने राज्य सभा टीवी को एक पत्र भी लिखा है.

गांधी ने तर्क दिया है कि इस प्रकार की चर्चा से सांसदों को उपराष्ट्रपति पद के लिए वोट डालने से पहले दोनों उम्मीदवारों के बारे में जानने का मौका मिलेगा. इससे देश और यहां की लोकतांत्रिक व्यवस्था के बारे में दोनों उम्मीदवारों की समझ का पता चल सकेगा.

और पढ़े -   गैंगरेप मामले में झूठ के जरिये मुजफ्फरनगर की फिजा बिगाड़ने की कोशिश, अफवाह फैलाने वाले शख्स को ट्विटर पर फोलो करते है मोदी

गोपालकृष्ण गांधी ने लिखा है, ‘मेरी इच्छा है कि राज्य सभा टीवी पैनल डिसकशन करवाए. यह डिबेट ना होकर बातचीत होनी चाहिए.’ उन्होंने आगे लिखा कि यह विचार-विमर्श आपसी समझदारी पर होना चाहिए न कि पार्टी राजनीति और व्यक्तिगत से ऊपर उठकर.

उन्होंने कहा, पहले से रिकॉर्ड किए जाने वाले इस विचार-विमर्श में दोनों के बीच सम्मान और दोस्ती दिखनी चाहिए, जो कि 5 अगस्त, 2017 को होने वाले उपराष्ट्रपति चुनावों में सांसद नायडू की मदद कर सके.

और पढ़े -   नोटबंदी और जीएसटी से जीडीपी पर प्रतिकूल असर पड़ा है: पूर्व पीएम मनमोहन सिंह

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE