नई दिल्ली | करीब चार हफ्तों से तेल की कीमतों में हो रही वृद्धि को तोड़ते हुए तेल कंपनियों ने आम आदमी को राहत देने का फैसला किया है. सोमवार को तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों को संसोधित करते हुए उनमे कटौती करने का फैसला किया है. जहाँ पेट्रोल की कीमतों में 2.16 रूपए वही डीजल की कीमतों में 2.10 रूपए की कमी की गयी है.

संसोधित दरे सोमवार आधी रात से लागू हो चुकी है. तेल कंपनियों के फैसले के बाद दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 65.32 रूपए प्रति लीटर हो गयी. इससे पहले यह 68.09 रूपए प्रति लीटर थी. वही डीजल की संसोधित दर 54.09 रूपए हो गयी जो इससे पहले 57.35 रूपए प्रति लीटर थी. चूँकि तेल कंपनीज कीमतों में जो भी संसोधन करती है उसमे राज्य का वैट और अन्य कर शामिल नही होते इसलिए कीमतों में वास्तविक कटौती इससे थोड़ी ज्यादा होगी.

और पढ़े -   मोदी सरकार के शासन में हुए अब तक 27 रेल हादसे, 259 की गई जान तो 899 हुए घायल

तेल कंपनिया पिछले चार हफ्तों से तेल की कीमतों में वृद्धि कर रही थी. इसलिए इस बार कटौती होने से वो क्रम भी टूट गया. इससे पहले एक मई को पेट्रोल की कीमतों में दो पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गयी थी. जबकि डीजल का दाम भी 52 पैसे प्रति लीटर बढाया गया था. उससे पहले भी 16 अप्रैल को पेट्रोल की कीमतों में 1.39 रूपए और डीजल की कीमतों में 1.04 रूपए प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई थी.

और पढ़े -   राजनीतिक दलों में कम हो रही नैतिकता, चुनाव जीतने के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार -चुनाव आयुक्त

मालूम हो की सरकारी तेल कंपनी इंडियन आयल, भारत पेट्रोलियम और हिन्दुस्तान पेट्रोलियम महीने में दो बार पेट्रोल और डीजल की दरो की समीक्षा करती है. इसलिए हर महीने दो बार तेल की कीमतों में बदलाव होता है. समीक्षा के दौरान कंपनीज अन्तराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों और डॉलर-रूपए विनिमय दर की समीक्षा कर तेल की कीमतों में बदलाव करती है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE