ग्रेटर नोयडा | उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोयडा में गौरक्षको के हमले में दो गौपालको के घायल होने की खबर है. पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश करनी शुरू कर दी है. हालांकि अभी तक किसी भी आरोपी की गिरफ़्तारी नही हुई है. इस पुरे मामले में विश्व हिन्दू परिषद की गौ रक्षा यूनिट का हाथ होने की खबर है. फ़िलहाल घायलों को नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहाँ उनकी हालत स्थित बतायी जा रही है.

और पढ़े -   नोटबंदी और जीएसटी से जीडीपी पर प्रतिकूल असर पड़ा है: पूर्व पीएम मनमोहन सिंह

मिली जानकारी के अनुसार जेवर के सिरसा मांझीपुर गाँव के रहने वाले 35 वर्षीय जबर सिंह और 45 वर्षीय भूप सिंह डेरी चलाकर अपने परिवार का जीवन यापन करते है. डेरी उधोग से जुड़े होने की वजह से ये दोनों मेहंदीपुर गाँव में एक गाय और बछड़ा खरीदकर पैदल ही अपने गाँव की तरफ आ रहे थे. इसी बीच थकावट दूर करने के लिए दोनों लोग एक पेड़ की नीचे बैठ गए.

और पढ़े -   पहलु खान को श्रदांजलि देने को लेकर मुस्लिम समुदाय और हिन्दू संगठन आये आमने सामने, पुलिस की मुस्तैदी से टली बड़ी घटना

तभी कुछ देर बाद ही वहां एक गौरक्षक दल पहुँच गया और बिना कुछ सुने ही उनके साथ मारपीट करने लगा. भूप सिंह ने बताया की उन्होंने हमारी बड़ी बेरहमी से पिटाई की. हम उन्हें बार बार बताते रहे की हम डेरी उधोग के लिए गाय खरीदकर ले जा रहे है. थोड़ी देर बाद जब उन्हें इस बात का यकीन हो गया तो उन्होंने हमें छोड़ दिया और वहां से चले गए.

दोनों को काफी गंभीर चोटे आई है. इलाज के लिए दोनों को नोयडा के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उधर पुलिस ने भूप सिंह के परिजनों की तरफ से दर्ज शिकायत के आधार पर 9 लोगो के खिलाफ मामला दर्ज किया है. जेवर के एसएचओ अजय कुमार शर्मा ने बताया की भूप सिंह और जबर सिंह दोनों डेरी का काम करते है. पुलिस आरोपियों को पकड़ने के लिए लगातार दबिश दे रही है. जल्द ही सभी आरोपीयो को गिरफ्तार कर लिया जायेगा.

और पढ़े -   ऑपरेशन 'इंसानियत' के तहत रोहिंग्या मुस्लिमों के लिए भारत ने भेजी मदद

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE