cap

जयपुर,  पूर्व केन्द्रीय राज्य मंत्री कैप्टन अयूब खान का आज झुंझुनूं जिले के नुआं गांव में निधन हो गया। वह 83 साल के थे।

खान के परिजनों ने बताया कि उनके परिवार में पत्नी, दो लडकियां है। कैप्टन अयूब खान तत्कालीन नरसिंह राव सरकार में स्वतंत्र प्रभार के मंत्री रहे। खान को वर्ष 1965 में वीरचक्र से सम्मानित किया गया था।

और पढ़े -   जेठमलानी की खरी-खरी पर भड़के जेटली, कहा - अपमान की भी होती है हद, बढ़ा दूंगा मानहानि की राशि

राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने वीर चक्र से सम्मानित पूर्व केन्द्रीय मंत्री कैप्टन अयूब खान के निधन पर गहरी संवेदना व्यक्त की है। अपने शोक संदेश में कहा है कि 1965 के भारत-पाक युद्घ में अपने शौर्य के लिए प्रसिद्घ हुए कैप्टन अयूब केन्द्र में मंत्री भी रहे। उनके द्वारा एक वीर सैनिक और जनप्रतिनिधि के रूप में दी गई सेवाओं को हमेशा याद किया जायेगा।

और पढ़े -   जंतर-मंतर पर दलितों का प्रदर्शन, देशव्यापी स्तर पर अब दलित करेंगे हिन्दू धर्म का त्याग

Captain Ayub Khan receives the Vir Chakra from President Dr S Radhakrishnanपूर्व मुख्यमंत्री ने परवर दिगार से मरहूम कैप्टन अयूब की आत्मा की शांति की कामना की और गमजदा परिजनों को इस सदमे को सहन करने हिम्मत देने की दुआ की भाषा)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE