s

भारतीय सेना द्वारा POK में की गई सर्जिकल स्ट्राइक्स पर रक्षामंत्री मनोहर परिकर के दावों की पोल उनकी ही सरकार के विदेश सचिव एस जयशंकर और उपसेना प्रमुख ले. जनरल विपिन रावत ने खोल दी.

दरअसल रक्षामंत्री ने दावा किया था कि भारतीय सेना ने उरी हमले के बाद पहली बार सर्जिकल स्ट्राइक की है. साथ ही उन्होंने इसका श्रेय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को दिया. लेकिन अब सारा सच सामने आ गया. विदेश सचिव एस जयशंकर ने विदेश मामलों से संबंधित संसदीय समिति को जानकारी देते हुए कहा कि ऐसे ऑपरेशन पहले भी सेना करती रही है लेकिन इस बार इसका पैमाना ज्यादा बड़ा था. ये भी पहली बार हुआ कि सफल ऑपरेशन के बाद सरकार ने इसका सार्वजनिक ऐलान भी किया.

और पढ़े -   हिंसा और तनाव के बीच दलित और ठाकुरों ने पेश की मिसाल, मिलकर करायी दो दलित लडकियों की शादी

सांसदों ने जयशंकर से सवाल पूछा था कि क्या पहले भी सर्जिकल स्ट्राइक की गई थी? बैठक में मौजूद सूत्रों के मुताबिक, ‘पहले एलओसी के पार विशिष्ट लक्ष्य वाले सीमित क्षमता के आतंकवाद विरोधी अभियान चलाए गए थे, लेकिन यह पहला मौका है जब सरकार ने इसे सार्वजनिक किया है.

करीब ढाई घंटे चली बैठक के दौरान सेना के उप प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल बिपिन रावत ने भी नियंत्रण रेखा के पार आतंकवादियों के ठिकानों पर सर्जिकल स्ट्राइक का ब्यौरा दिया.

और पढ़े -   चांदनी चौक पर लगी भयंकर आग, 80 दुकाने जलकर ख़ाक, आप विधायक अलका लांबा तीन घंटे चढ़ी रही क्रेन पर

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE