फतेहाबाद | पिछले कुछ महीनो में कश्मीर के अन्दर भारतीय सैनिको पर हमले की घटनाओं में जबरदस्त इजाफा हुआ है. हमारे सैनिक घाटी में दो मोर्चे पर लड़ाई लड़ रहे है. उन्हें आतंकियों के साथ साथ पत्थरबाजो की चुनौतियों का भी सामना करना पड़ रहा है. हाल फ़िलहाल में तो आतंकियों और पाक सैनिको की गोलीबारी में कई भारतीय सैनिक शहीद हुए है. इनमे से दो जवानों के शव के साथ बर्बरता भी की गयी.

भारतीय सैनिको पर हो रहे लगातार हमले के बावजूद मोदी सरकार कोई सख्त कदम उठाने में नाकाम रही है. जिसके वजह से आतंकियों और पत्थरबाजो के हौसले बढ़ रहे है. मोदी सरकार द्वारा हर हमले के बाद केवल कड़ी निंदा कर देने से न केवल जनता नाराज है बल्कि पूर्व सैनिको में भी नाराजगी बढ़ रही है. ऐसे ही एक पूर्व सैनिक दंपत्ति ने प्रधानमंत्री मोदी से सैनिको को कार्यवाही की छूट देने की मांग करते हुए बड़ी ही अजीब चीज उनको भेंट की.

और पढ़े -   मोदी के भाषण पर उमर अब्दुल्ल्ला का तंज कहा, उम्मीद है उनकी दलील सुरक्षा बलों के लिए भी

हरियाणा के फतेहाबाद में रहने वाले धर्मवीर सिंह सेना की जाट रेजिमेंट में बतौर हवालदार तैनात रहे है. वो 11 साल तक जम्मू कश्मीर में पोस्टेड भी रहे है. उनकी बहादुरी के लिए उनको सेना मैडल से भी नवाजा जा चूका है. लेकिन धर्मवीर सिंह और उनकी पत्नी सैनिको पर लगातार हो रहे हमलो से आहत है. इसके अलावा वो पीएम मोदी द्वारा आतंकियों पर कोई कार्यवाही नही करने से भी नाराज है.

और पढ़े -   झूठा है डॉ. कफील पर लगा बलात्कार का आरोप, यह रहा सुबूत

इसी नाराजगी को जताने के लिए धर्मवीर सिंह की पत्नी सुमन गुरुवार को फतेहाबाद के जिला सैनिक बोर्ड पहुंची. यहाँ पहुंचकर उन्होंने एक 56 इंच की ब्रा और एक पत्र मोदी को भेंट किया. इस पत्र में लिखा था की पिछले कई दिनों से जम्मू कश्मीर में आतंकियों द्वारा सैनिको को बेइज्जत किये जाने की घटना सामने आ रही है.

और पढ़े -   वाराणसी में लगे मोदी के लापता होने के पोस्टर लिखा, जाने कौन सा देश तुम चले गए

उन्होंने आगे लिखा की सैनिक गोलियों से शहीद होते तो कोई डर नही लेकिन वहां सैनिको के हाथ बंधे हुए है. वह सब कुछ कर सकते है लेकिन कुछ कर नही पा रहे है. आपने चुनाव से पहले बहुत बड़ी बड़ी बाते की थी. लोगो ने आपकी 56 इंच की छाती के लिए वोट दी थी. लेकिन अब उसमे दम नहीं दिखाई दे रहा. 56 इंच का सीने वाला सैनिको के हाथ खोलने की बजाय उनका हाथ बाँध रहा है. इसलिए हम चाहते है की सैनिको को खुली छूट दी जाए.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE