दिल्ली यूनिवर्सिटी ने केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी के 1996 में बीए कोर्स करने से जुड़ी जानकारी देते हुए कोर्ट को कहा है कि संबंधित दस्तावेज अभी तक नहीं मिले हैं। स्मृति ईरानी ने 2004 के लोकसभा चुनाव के दौरान हलफनामे में जिस कोर्स का जिक्र किया था। कोर्ट ने यूनिवर्सिटी के पत्राचार विभाग से इसके बारे में दस्तावेज तलब किए थे। ईरानी ने अप्रैल, 2004 के चुनाव में अपने हलफनामे में दावा किया था कि उन्होंने 1996 में बीए किया था।

सहायक पंजीकार ओ पी तंवर ने मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट हरविंदर सिंह से कहा, “उनके बीए से संबंधित 1996 के दस्तावेज अभी मिलने बाकी हैं।” तंवर ने 1993-94 के बी कॉम (ऑनर्स) के लिए एडमिशन फॉर्म, इस कोर्स का रिजल्ट और 2013-14 में बीए (ऑनर्स) राजनीति विज्ञान प्रथम वर्ष में उनके रॉल नंबर वाले फॉर्म सहित उनकी शिक्षा से जुड़े कुछ दस्तावेज पेश किए हैं।

उन्होंने कहा कि बी कॉम (ऑनर्स) के एडमिशन फॉर्म के भी सौंपे गए। लेकिन ईरानी की कक्षा 12वीं के दस्तावेज नहीं मिले हैं। अदालत ने उत्तरी दिल्ली के एसडीएम को चांदनी चौक निर्वाचन क्षेत्र से वर्ष 2004 का चुनाव लड़ने के लिए ईरानी द्वारा हलफनामे के साथ दिए गए दस्तावेज भी देने को कहा।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें