arvind-kejriwal-650_650x400_61450709620

केजरीवाल सरकार ने गरीबों का इलाज ना करने के मामले में दिल्ली के 5 निजी बड़े अस्पतालों पर करीब 700 करोड़ रुपए का जुर्माना किया है।

सरकार ने ओखला स्थित फोर्टिस एस्कॉर्ट हार्ट इंस्टीच्यूट, धर्मशीला कैंसर अस्पताल, मैक्स, पुष्पावती सिंघानिया और शांति मुकुंद अस्पताल को जुर्माने का नोटिस भेजा हैं. नोटिस में दिल्ली सरकार द्वारा पूछा गया कि आखिर क्यों उन्होंने जरुरतमंदों का इलाज नहीं किया।

और पढ़े -   बदले अठावले के सुर: पहले कहा था - गौमांस खाना सबका अधिकार, अब बोले - नहीं खाना चाहिए

साथ ही अस्पतालों को जवाब देने के साथ जुर्माने का पैसा भी जमा करवाने को कहा गया है।  दिल्ली सरकार का कहना है कि इन बड़े अस्पतालों को शर्त के साथ सस्ती जमीन दी गई थी, ताकि वो गरीबों का फ्री में इलाज करें। लेकिन इन अस्पतालों ने ऐसा नहीं किया, कई जरुरतमंद गरीबों को इन लोगों ने वापस लौटा दिया।

और पढ़े -   मुख्य न्यायाधीश ने रामनाथ कोविंद को दिलाई देश के 14वें राष्ट्रपति पद की शपथ

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE