नई दिल्‍ली। जेएनयू में देश विरोधी नारे लगाने के आरोपी उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य को दिल्‍ली हाईकोर्ट ने पुलिस के सामने सरेंडर करने के लिए कहा है। सरेंडर के दौरान सुरक्षा दिए जाने की याचिका पर कोर्ट बुधवार को सुनवाई करेगी।

20-Umar-Khalid

दरअसल उमर खालिद और निर्बाना भट्टाचार्य ने कोर्ट में याचिका लगाई थी जिसमें सरेंडर के दौरान सुरक्षा देने की अपील की थी। याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा है कि दोनों को सरेंडर करते हुए कानून की प्रक्रिया का पालन करना होगा। कोर्ट ने दोनों के वकीलों से यह भी पूछा कि उमर और अनिर्बान कहां सरेंडर करना चाहते हैं।

और पढ़े -   मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सुप्रीम कोर्ट में दिए गए बयान पर भडके जावेद अख्तर, बताया बेतुका

इसके अलावा अदालत ने एक अन्‍य याचिका खारिज कर दी है जिसमें दिल्‍ली पुलिस को कॉलेज कैम्‍पस के अंदर दाखिल होने को लेकर दिशा निर्देश देने की मांग की गई थी।

मालूम हो कि देशद्रोह के आरोपी जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्र मास्टरमाइंड उमर खालिद, रामा नागा, आशुतोष, अनंत नारायण व अनिर्बान को दिल्ली पुलिस अब तक गिरफ्तार नहीं कर पाई है। दिल्‍ली पुलिस कमिश्‍नर बीएस बस्‍सी ने भी इससे पहले कहा था कि आरोपियों को सरेंडर कर देना चाहिए क्‍योंकि उन्‍हें कोर्ट से राहत मिलने वाली नहीं है। (नईदुनिया)

और पढ़े -   निकाह के वक्त तीन तलाक का इस्तेमाल न करने की दुल्हों को सलाह देंगे काजी: AIMPLB

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE